कलम विधि से चिकित्सक ने किया चालक के हाथ का उपचार

कलम विधि से चिकित्सक ने किया चालक के हाथ का उपचार
District Hospital

जनपद में इस तरह का पहला ऑपरेशन बना चर्चा का विषय

आजमगढ़. मु्केरीगंज मोहल्ला निवासी राजेश के हाथ में चोट आने की वजह से वह बहुत परेशान था। कहते हैं कि चिकित्सक पृथ्वी पर भगवान होता है तो जिला अस्पताल में तैनात प्लास्टिक सर्जन सुभाष सिंह ने इसे साबित कर दिया है। दुर्घटना में चालक के हाथ की हड्डी टूटने के बाद उस पर मांस नहीं चढ़ रहा था लेकिन डॉक्टर सुभाष ने कलम विधि से ऑपरेशन कर नामुमकीन को मुमकीन कर दिखाया। आजमगढ़ जैसे जिले में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। 

शहर कोतवाली क्षेत्र के मुकेरीगंज मोहल्ला निवासी राजेश (40) पुत्र लालचंद गुप्ता रोजी-रोटी के लिए ट्रक चलाता है। 20 दिन पूर्व मुम्बई में ट्रक पर तिरपाल बांधते समय गिरने से उसके केहुनी की हड्डी टूट गयी थी। प्राथमिक उपचार के बाद वह आजमगढ़ लौटा तो जिला अस्पताल में उपचार शुरू कराया। 

हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. एवी त्रिपाठी ने हड्डी तो जोड़ दिया लेकिन उस पर मांस व चमड़ी नहीं चढ़ रही थी। अस्पताल में तैनात प्लास्टिक सर्जन डा. सुभाष सिंह ने इसे चुनौती के रुप में लिया और कलम विधि से ऑपरेशन करते हुए पेट में चीरा लगाकर केहुनी को पेट में डाल दिया है। 

डा. सुभाष के मुताबिक पेट से जुड़े रहने के कारण धीरे-धीरे केहुनी पर मांस चढ़ जायेगी। इसके बाद मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो जायेगा।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned