आजमगढ में  पुलिस को दी गई  दंगा नियंत्रण की ट्रेनिंग

आजमगढ में  पुलिस को दी गई  दंगा नियंत्रण की ट्रेनिंग
training

माहौल को देख पुलिस को चुस्त-दुरूस्त बना रहे एसपी

आजमगढ़. जिले के अतिसंवेदनशील हालात को देखते हुए पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी जिले की पुलिस को चुस्त-दुरूस्त बनाने में लगे हुए हैं। शुक्रवार को एसपी ने जहां पुलिस लाइन परिसर में परेड का निरीक्षण किया, वहीं सिधारी स्थित चारमारी सेंटर पर आरक्षी व सबइंस्पेक्टरों को बड़ी घटनाओं व दंगे पर नियंत्रण की ट्रेनिंग दी। इस दौरान दंगा नियंत्रण के उपयोग में आने वाले शस्त्रों का प्रदर्शन भी किया गया।  

पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने सर्वप्रथम पुलिस लाइन में परेड का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने रिक्रुट आरक्षियों को परेड के बारे में जानकारी दी तथा अनुशासन के बारे में विस्तार से बताया। एसपी ने पुलिस लाइन परिसर में क्वाटर्रगार्द, शस्त्रागार, मोटरवाहन शाखा आदि का निरीक्षण किया। साथ ही व्यवस्था में सुधार का आवश्यक निर्देश दिया। 

इसके बाद सिधारी स्थित फायरिंग बट पर दंगा नियंत्रित करने वाले शस्त्रों जैसे पिस्टल सेल, चील्ली बम, टियर स्मोक ग्रेनेड, रबर बुलेट, 303 ब्लैंक आदि का परीक्षण करवाया गया। इस अवसर पर क्षेत्राधिकारी नगर, क्षेत्राधिकारी लाइन/सदर, थानाध्यक्ष मुबारकपुर, कोतवाली प्रभारी जीयनपुर व देवगांव, थानाध्यक्ष अहरौला, थानाध्यक्ष सरायमीर सहित एक उपनिरीक्षक तथा 5 आरक्षीयों को उपरोक्त शस्त्रों की हैडलिंग करायी गयी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned