आजमगढ़ में तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से दो की मौत

आजमगढ़ में तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से दो की मौत

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Dec, 14 2017 08:48:42 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

आजमगढ़ में ट्रक के धक्के से दो की मौत, प्रधान के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज समेत महत्वपूर्ण खबरें

आजमगढ़. जनपद के सिधारी थाना व फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में यमदूत बने तेज रफ्तार ट्रकों ने युवक व वृद्ध की जान ले ली। फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में हुई दुर्घटना में घायल युवक का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गए हैं।


सिधारी थाना क्षेत्र अंतर्गत हाइडिल चैराहे के समीप बुधवार की शाम तेज रफ्तार ट्रक ने पैदल जा रहे 65 वर्षीय वृद्ध को अपनी चपेट में ले लिया। गंभीर रुप से घायल वृद्ध को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। उपचार के दौरान रात करीब आठ बजे उसने दम तोड़ दिया। मृतक लक्ष्मण (65) पुत्र पलटूराम सिधारी थाना क्षेत्र के रामपुर जप्ती गांव का रहने वाला था। दुर्घटना के वक्त वह शहर से पैदल अपने गांव जा रहा था। मृतक निसंतान बताया गया है। इसी क्रम में फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के सरैया (अंबारी) गांव के समीप बुधवार की शाम ट्रक की चपेट में आ जाने से बाइक सवार दो युवक जख्मी हो गए।

 

स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र से रेफर कर दिए जाने पर घायल युवकों को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया जा रहा था कि रास्ते में ही एक युवक ने दम तोड़ दिया। दूसरे घायल का इलाज जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मऊ शहर के मुंशीपुरा मोहल्ला निवासी कलीम अख्तर (23) पुत्र जहीर अहमद एवं सनी देवल (22) पुत्र जयप्रकाश निवासी मोहल्ला पूरासोफी कस्बा मुबारकपुर दोनों युवक एयर कंडीशन मशीन की मरम्मत का कार्य करते थे।

 

बुधवार को दोनों फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में एसी की मरम्मत करने के लिए बाइक से गए थे। वापस शहर लौटते समय बाइक सवार दोनों युवक तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आ गए। इस हादसे में मऊ शहर निवासी कलीम अख्तर की मौत हो गई, जबकि घायल सनी देओल का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मृतक के भाई वसीम अख्तर की तहरीर पर अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ फूलपुर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज की गई है।


पूर्व प्रधान के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज
वर्तमान ग्रामप्रधान के खिलाफ फर्जी शिकायत दर्ज कराने वाले पूर्व प्रधान की पोल मामले की जांच के दौरान खुल गई। अपने ही बुने जाल में फंसे शिकारी के खिलाफ महराजगंज थाने में धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है।


महाराजगंज थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर आईमा ग्राम निवासी व पूर्व प्रधान शेख शकीबुद्दीन ने चुनावी रंजिश के चलते वर्तमान ग्रामप्रधान के खिलाफ ग्राम सभा में फर्जी लोगों के नाम शौचालय निर्माण की सूची में दर्ज कराकर सरकारी धन के गबन का आरोप लगाते हुए जिला अधिकारी के यहां प्रार्थना पत्र दिया। मामले को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने इस प्रकरण की जांच कराई। जांच के दौरान पूर्व प्रधान द्वारा रची गई साजिश का खुलासा हुआ। जिला अधिकारी ने फर्जी शिकायतकर्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का निर्देश दिया। इसके अनुपालन में महाराजगंज विकासखंड मुख्यालय पर तैनात सहायक विकास अधिकारी जितेंद्र सिंह ने बुधवार को पूर्व प्रधान के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।


वध हेतु जा रहे दो मवेशी बरामद, एक गिरफ्तार
जहानागंज थाने की पुलिस ने क्षेत्र के नाजिरपुर सरैया गांव के पास टाटा मैजिक वाहन पर लगे दो मवेशियों की बरामदगी के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार करने का दावा किया है। जहानागंज थाने पर तैनात उपनिरीक्षक कालीशंकर तिवारी मंगलवार की रात क्षेत्र भ्रमण पर थे। देर रात करीब 12 बजे उन्होंने तेज रफ्तार टाटा मैजिक वाहन को संदेह वश रोकना चाहा। पुलिस देख चालक ने वाहन की गति तेज कर दी। पीछा किए जाने पर टाटा मैजिक वाहन पर सवार लोग नाजिरपुर सरैया गांव के पास वाहन को रोककर पैदल भागने लगे।

 

पुलिस ने एक व्यक्ति को दौड़ाकर पकड़ा, जबकि उसके साथ रहा दूसरा व्यक्ति भागने में सफल रहा। वाहन पर लदे दो मवेशी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया। इस मामले में बिलरियागंज थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर ग्राम निवासी सलमान पुत्र अंसार तथा जहानागंज क्षेत्र के महुआ ग्राम निवासी दिलवर पुत्र छुल्ला के खिलाफ गोवध निवारण एवं पशु क्रूरता अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। गिरफ्तार आरोपी सलमान बताया गया है।


इलाज के नाम पर लगाया 11 हजार की चपत, रिपोर्ट दर्ज
रौनापार थाने की पुलिस ने आंख का इलाज कराने के नाम पर 11हजार रुपये की चपत लगाने वाले व्यक्ति के खिलाफ अमानत में खयानत के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। रौनापार थाना क्षेत्र के जोकहरा ग्राम निवासी अनिल कुमार पासवान पुत्र मुन्नर का आरोप है कि आंख का इलाज कराने के नाम पर जहानागंज थाना क्षेत्र के कुंजी ग्राम निवासी नंदा पुत्र दयाल चैहान ने उससे 11हजार रुपये ले लिए। इलाज न हो पाने पर पीड़ित ने जब अपने दी गई रकम की मांग किया तो आरोपी ने रुपए वापस करने से इंकार कर दिया। रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
by Ran Vijay Singh

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned