आजमगढ़ में दो बालिकाओं के अपहरण के बाद दहशत

आजमगढ़ में दो बालिकाओं के अपहरण के बाद दहशत
kidnapping

चक्रपानपुर क्षेत्र में घटना से मचा हड़कंप

आजमगढ़.  जहानागंज व मेंहनगर थाना क्षेत्रों में इन दिनों छोटे बच्चों का अपहरण करने वालों का गिरोह सक्रिय है। क्षेत्र की रहने वाली दो बच्चियों का अपहरण कर लिया गया। एक बालिका तो दो दिन बाद अपहर्ताओं के चंगुल से मुक्त हो गई लेकिन दूसरी बालिका का अब तक पता नहीं चल सका है।

बताते हैं कि जहानागंज थाना क्षेत्र के चक्रपानपुर निवासी अशोक वनवासी की 9 वर्षीय पुत्री रूपा बीते 20 अक्टूबर की सुबह बाजार में सामान खरीदने गई थी और लापता हो गई। परिजन अपने स्तर से लापता रूपा की तलाश कर रहे थे कि रविवार की दोपहर वह सकुशल अपने घर पहुंच गई। परिजनों द्वारा पूछे जाने पर रूपा ने बताया कि चारपहिया वाहन सवार दो महिलाएं व एक पुरुष उसे उठाकर अपने साथ ले गए थे। तीनों उसे एक कमरे में बंद रखे और फिर परिवार की स्थिति जानने के बाद रविवार की दोपहर उसे वाहन से लाकर सुपर फैसिलिटी अस्पताल के पास छोड़कर सभी फरार हो गए। 

अभी इस बात की चर्चा चल रही रही थी कि सोमवार की दोपहर मेंहनगर थाना क्षेत्र के नागमलपुर ग्राम निवासी बिहारी चौहान के घर पहुंचे दो व्यक्ति उसकी 9 वर्षीय पुत्री रुचि को यह कहकर अपने साथ ले गए कि धान की फसल काट रही तुम्हारी मां ने बुलाया है। इस दौरान बिहारी चौहान की पत्नी बदामी देवी घर पर अपनी बड़ी पुत्री रुचि व पांच वर्षीय रोशनी को छोड़कर दवा लेने के लिए बाजार गई थी। 

दोपहर तीन बजे जब बदामी घर पहुंची तो वहां मौजूद रोशनी से बड़ी बेटी के बारे में पूछा। उसके बताने पर हैरान बदामी ने इस बात की जानकारी पड़ोसियों को दी। लापता रुचि की तलाश की गई लेकिन उसका पता नहीं चल सका। एक सप्ताह के भीतर हुई इन घटनाओं ने क्षेत्र के लोगों की नींद उड़ा दी है। वहीं हैरानी इस बात की है कि पुलिस इस बात से अनजान है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned