आजमगढ़ में रंग डालने पर बवाल, दो समुदायों में पथराव, स्थिति बेकाबू

आजमगढ़ में रंग डालने पर बवाल, दो समुदायों में पथराव, स्थिति बेकाबू
uproar in azamgarh

दोनो तरफ से दो दर्जन से अधिक घायल, कई थाने की पुलिस मौके पर पहुंची

आजमगढ़. निजामाबाद थाना क्षेत्र के फरीदाबाद में गुरुवार की पूर्वाह्न रंग लगाने को लेकर दो वर्गों के लोग आमने सामने हो गये। थोड़ी ही देर में हालात दंगे जैसा हो गया। दोनों पक्षों द्वारा किये जा रहे पथराव में दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। पथराव लगातार जारी है। पुलिस कप्तान पीएसी के साथ मौके पर पहुंच गये हैं। कई थानों की पुलिस भी मौके पर जुटी है। तमाम प्रयास के बाद भी हालात पर काबू नहीं पाया जा सका है। 
uproar in azamgarh
बताते हैं कि फरीदाबाद बाजार में कुछ युवक सड़क पर होली खेल रहे थे। उसी दौरान कुछ महिलायें बाइक से गुजर रही थी। तभी उनके उपर रंग चला गया जिसे लेकर दोनों पक्षों के लोक आमने सामने हो गये। जब इसकी जानकारी आस पास के गांव के लोगों को हुई तो एक पक्ष के साथ खोदादादपुर, चकियां, फरिहां संजरपुर, दाउदपुर आदि आधा दर्जन गांव के लोग तथा दूसरे पक्ष के साथ अंबरपुर, बीबीपुर, फरीदाबाद आदि गांवों के लोग खड़े हो गये। इसके विवाद लगातार बढ़ता गया। करीब दस बजे पथराव शुरू हुआ और अपराह्न एक बजे तक जारी था। घटना की जानकारी होने पर निजामाबाद, सरायमीर, कप्तानगंज, गंभीरपुर आदि थानों की फोर्स 11 बजे पहुंच गयी थी लेकिन पुलिस बेकाबू भीड़ को नियंत्रण करने में असफल रही। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक दयानंद मिश्र पीएसी व दंगा नियंत्रण टीम के साथ 12 बजे मौके पर पहुंच गये। इसके बाद भी हालात बेकाबू बना हुआ है। इस ममाले में एक पक्ष का आरोप है कि तीन बाइक से कुछ लोग महिलाओं को लेकर मिट्टी देने जा रहे थे तभी फरीदाबाद में होली खेल रहे नशे में धुत्त लोगों ने बाइक जबरदस्ती रोकवाकर महिलाओं का नकाब हाटकर रंग डाल दिया और पुरूषों का मारापीटा। इसी बात को लेकर विवाद हुआ। वहीं दूसरे पक्ष के लोगों का आरोप है कि वे चुपचाप होली खेल रहे थे तभी कुछ लोग आये और उनसे झगड़ा करने लगे। उक्त लोग घर के बाहर होली खेलने का विरोध किये। जब युवक नहीं माने तो उन्हें मारने पीटने लगे। सच जो भी हो लेकिन यहां हालात पूरी तरह बेकाबू हैं। एक पक्ष फरीदाबाद चौक तो दूसरा खोदादादपुर बैंक के पास जमा है और दोनों तरफ से रूक रूक कर पथराव किया जा रहा है। पुलिस बीच में जुटी है। पुलिस अधिकारी अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं।
uproar in azamgarh
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned