चाचा ने दुष्कर्म में नाकाम होने पर दोस्त के साथ मिलकर की भतीजी की हत्या

मृतका के खेत के पास सिवान में स्थित कूएं से बरामद हुई लाश

पूरी रात पुलिस को गुमराह करते रहे आरोपी, पोखरे में कूदकर की भागने की कोशिश

आठवीं की छात्रा थी नाबालिग किशोरी, रोजी रोटी के लिए मुंबई रहता है पिता

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. सरायमीर थाना क्षेत्र में सनसनीखेज ममाला प्रकाश में आया है। यहां चाचा ने दोस्त के साथ मिलकर नाबालिग भतीजी के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया नाकाम होने पर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपियों ने गांव की सिवान में स्थित कूएं में शव को फेंक दिया। दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर पुलिस ने उनकी निशानदेही पर शुक्रवार की पूर्वांह्न अर्ध नग्न हालत में शव कुएं से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं आरोपियों ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश भी की लेकिन पुलिस ने उन्हें दोबारा पकड़ लिया।

सरायमीर थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी गुरुवार की दोपहर अपने दादा को खान देने के लिए खेत में गयी थी। नाबालिग के दादा के भाई का पुत्र जितेंद्र यादव 25 पुत्र मन्नू यादव वहां पहुंचा और दूसरे खेत की सिंचाई की बात करने लगा। बात ही बात में उसने पाइप लाने की बात कहीं और नाबालिग छात्रा के साथ घर के लिए निकल गया। घर वालों को लगा कि जितेंद्र दूसरे खेत में सिंचाई कर रहा होगा लेकिन वह छात्रा को अगवा कर गायब हो गया।

जब काफी देर तक छात्रा खेत में नहीं लौटी तो परिवार के लोग परेशान होकर उसकी तलाश शुरू कर दिये। जितेंद्र से पूछा तो उसने कहा कि वह उसे घर के पास छोड़ दिया था। जब शाम तक छात्रा का कहीं पता नहीं चला तो उसकी मां ने अपहरण की आशंका जताते हुए जितेंद्र के खिलाफ थाने में तहरीर दी। इसके बाद पुलिस ने पूछताछ के लिए जितेंद्र को हिरासत में ले लिया। पूछताछ के बाद आरोपी के बताने पर पुलिस ने असई गांव निवासी प्रिंस को भी उठा लिया।

पूछताछ में दोनों आरोपी पुलिस को गुमराह करते रहे। देर रात उन्होंने पुलिस को हत्या कर शव पोखरे में फेंकने की जानकारी दी तो पुलिस उन्हें लेकर पोखरे पर गयी। दोनों आरोपियों ने पोखरे में कूदकर भागने की कोशिश की। उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस को भी पोखरे में कूदना पड़ा। कड़ाई से पूछताछ के बाद शुक्रवार की सुबह आरोपियों ने बताया कि उन्होंने शव एक कूएं में फेंका है। इसके बाद पुलिस ने कूंए में तलाश शुरू की। घंटों के प्रयास के बाद छात्रा का शव उसी के खेत के पास स्थित कुंए से अर्ध नग्न अवस्था में बरामद हुआ। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सरायमीर थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने बताया कि दुष्कर्म करने की कोशिश का विरोध करने पर हत्याकर शव कुएं में फेका गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही कुछ स्पष्ट रूप से कहा जा सकता है।

छात्रा की मौत से परिवार में कोहराम मचा है। वह आठवीं की छात्रा थी तथा चार बहन व दो भाइयों में दूसरे नंबर पर थी। उसके पिता एक सप्ताह पूर्व रोजी रोटी की तलाश में मुंबई गए हैं। बेटी की मौत की खबर पाकर पिता भी मुंबई से घर के लिए चल दिए हैं।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned