डिप्टी CM का दावा, आजमगढ को बनाएंगे मॉडल जिला, दिखाएंगे विकास कैसा होता है

 डिप्टी CM का दावा, आजमगढ को बनाएंगे मॉडल जिला, दिखाएंगे विकास कैसा होता है
Deputy CM Keshav Maurya

समीक्षा के दौरान डिप्टी सीएम ने बिजली, स्वास्थ्य, सड़क, किसानो की समस्याओं के निपटाने अधिकारियों को दिये निर्देश

आजमगढ़. उपमुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश केशव प्रसाद मौर्य ने गुरूवार को  कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विकास कार्यो की समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान विकास योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की गयी। इस दौरान कृषि विभाग द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को प्रदान करने का निर्देश देते हुये उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि अधिक से अधिक किसानों को सरकारी योजनाओं से लाभ प्राप्त हो। जिससे उनका जीवन स्तर ऊंचा हो सके।




उप मुख्यमंत्री ने  जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दूबे को निर्देशित करते हुये कहा कि किसानों के लिये चलायी जा रही योजनाओं का लाभ तथा उनका पंजीकरण शतप्रतिशत कराना सुनिश्चित करें। सड़क निर्माण की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहाकि सरकार की प्राथमिकता है कि  15 जून तक सभी सड़के गढ्डामुक्त हो जानी चाहिये। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।



उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि हर हाल में लक्ष्य को प्राप्त करना हमारी प्राथमिकता है। जिससे जनता में नई सरकार के सत्ता में आने का परिवर्तन दिखायी दे। उन्होंने समस्त कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित करते हुये कहा कि जो भी निर्माण कार्य अधूरे हैं उन्हें अतिशीघ्र पूर्ण कराना सुनिश्चित करें।




अधीक्षण अभियन्ता विद्युत को निर्देशित करते हुये  कहा कि शहरों में चौबीस घंटे, तहसील स्तर पर बीस घंटे, व ग्रामीण क्षेत्रों में अठ्ठाहर घंटे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये आवश्यक कदम उठाये। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार की योजना है कि जिन क्षेत्रों में विद्युत चोरी नहीं होती है वहां चैबीस घंटे विद्युत सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में  खराब ट्रांसफामर 48 घंटे में तथा शहरी क्षेत्रों में 24 घंटों के अन्दर बदलना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहाकि जनपद का क्षेत्रफल बड़ा है इसलिये इसे मॉडल के रूप में विकसित करने में सहयेाग करें तथा जो लोग बड़े स्तर पर विद्युत चोरी कर रहे है। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। किसी भी कीमत पर विद्युत चोरी नहीं होनी चाहिये। 
 



उपमुख्यमत्री ने स्वास्थ्य सेवाओं  सम्बन्धी समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा.एसके तिवारी को निर्देशित करते हुये कहा कि जहां भी जननी सुरक्षा सम्बन्धी समस्यायों यथा प्रसव आदि  के दौरान प्रकाश व्यवस्था के साथ ही डाक्टर व स्टाफ  की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करें। स्वच्छ भारत मिशन सम्बन्धी समीक्षा के दौरान जिले के समस्त विद्यालयों में साफ-सफाई के लिये आवश्यक कदम उठाने का निर्देश देते हुये उन्होंने कहा कि इस अभियान को जन आन्दोलन का रूप दे तथा सामाजिक व गैर सरकारी संगठनों को भी इस कार्य में जोड़कर इसे मूर्तरूप प्रदान करें। उन्होंने कहा कि जिले में जो भी शौचालय बनवाये गये हैं उनके उपयोग हेतु जनजागरूकता फैलाने के लिये सरकारी व गैर सरकारी संगठनों से सहायता लें। 
 


 
जिससे स्वच्छ भारत का सपना पूरा हो सके। कामधेनु योजना की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि यह योजना ग्रामीण किसानों के कल्याण से जुड़ी है  जिसमें पात्रों को ही साधन मुहैय्या कराया जाये। जल संचयन के सम्बन्ध में उप संचालक पीके सिंह द्वारा अगवत कराया गया कि जनपद में 442 तालाबों की खोदाई कराकर इस मिशन को मूर्त रूप प्रदान किया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री ने समस्त पेंशन धारकों के खातों को आधार से जोडने तथा सर्वे के माध्यम से पात्र व्यक्तियों को पेंशन मुहैय्या करने का निर्देश दिया।




खाद्य सुरक्षा मिशन के दौरान उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी जीएस शुक्ला को निर्देशित करते हुये कहाकि सभी पात्रों को राशन मिलना चाहिये तथा गठित कमेटियों की उपस्थिति में खाद्यान्न का वितरण करायें तथा किसी भी वितरक दुकान द्वारा मनमानी नहीं होनी चाहिय। प्रधानमंत्री जनधन योजना की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी सुहास एलवाई द्वारा अवगत कराया गया है कि देश में  जनधन खातों को खुलवाने में आजमगढ़ का तीसरा स्थान तथा प्रदेश में पहला स्थान प्रदान किया गया है। उपमुख्यमंत्री ने फोरलेन के निर्माण में जिन किसानों की जमीन आ गयी है उनके मुआवजे का वितरण शीघ्र कराने का निर्देश दिया।



 
उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है कि सभी कार्य ई-टेडरिंग के माध्यम से होना चाहिये जिससे व्यवस्था में पारदर्शिता लायी जा सके। प्रदेश के विकास के लिये भारत सरकार पूर्ण रूप से सहयोग प्रदान कर रही है। इसलिये आजमगढ़ को मॉडल जिला बनाना है। आजमगढ़ जनपद में विकास की असीम संभावनायें है। विकास करने में कोई कमी नहीं होनी चाहिये। जनता की समस्याओं का निस्तारण सभी अधिकारी अपने स्तर से  करना निश्चित करें।



 
इस अवसर पर जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा कि जनपद के विकास में पूरी निष्ठड्ढा व लगन के साथ कार्य कराये जायेंगे। माननीय उपमुख्यमंत्री द्वारा दिये गये मार्ग दर्शन पर अमल करते हुये जनपद को विकास के क्षेत्र में अग्रणी बनाने में कोई कमी नहीं की जायेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन प्रेमप्रकाश सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीके गुप्ता, उप संचालक चकबंदी ऋतु सुहास, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण संजय गोरे, अधीक्षण अभियन्ता विद्युत डीके सिंह, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई लवकुश सिंह सहित समस्त सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारी व कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर उपस्थित थे।


देखेंं वीडियो


देखेंं वीडियो
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned