तय समय में सिर्फ 75.46 फीसदी ही हुई गेहूं की सरकारी खरीद, 10 दिन का और समय मिला

तय समय में सिर्फ 75.46 फीसदी ही हुई गेहूं की सरकारी खरीद, 10 दिन का और समय मिला
प्रतीकात्मक चित्र

Mohd Rafatuddin Faridi | Updated: 17 Jun 2019, 08:34:05 AM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

  • खरीद लक्ष्य को पूरा करने और किसानों को राहत देते हुए सरकार ने खरीद का समय बढ़ाया।

आजमगढ़. गेंहू खरीद 2019-20 के अंतर्गत एक अप्रैल से 15 जून तक निर्धारित समय समाप्त हो गया लेकिन निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष खरीद सिर्फ 75.46 फीसद हो पाई है। हालांकि अभी 27.26 फीसद क्रय किया गया गेहूं केंद्रों के गोदामों में पड़ा है। क्योंकि एफसीआइ में स्थान आभाव के कारण भंडारण नहीं हो सका। उधर, सरकार ने खरीद लक्ष्य पूरा करने और किसानों को राहत देते हुए 10 दिन का समय और बढ़ा दिया है।


जिले के लिए निर्धारित 64,500 एमटी गेहूं खरीद के लिए विभिन्न एजेंसियों के कुल 96 केंद्रों की स्थापना की गई थी। निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष 15 जून तक 48671.61 एमटी की खरीद हुई। 12,407 किसानों से हुई खरीद में अब तक 35,404.00 एमटी गेहूं का भंडारण एफसीआइ में हो चुका है। जबकि 13,267.61 एमटी गेहूं का भंडारण किया जाना अभी शेष है। जबकि मानसून की दस्तक कभी भी हो सकती है। क्रय किए गए गेहूं के 9,052.92 लाख रुपये में अभी तक 9049.96 लाख का भुगतान हुआ है। जबकि 2.96 लाख रुपये को भुगतान अवशेष है। पिछले खरीद वर्ष के आंकड़ों पर गौर करें तो 15 जून तक 65,496.71 क्विटल गेहूं का खरीद हो चुका था। जो, इस वर्ष हुई खरीद से 16,825 क्विटल कम है।


जिला खाद्य विपणन अधिकारी आरपी पटेल निर्धारित समय में गेहूं की अच्छी खरीद हुई है। बावजूद इसके शासन स्तर से गेहूं की खरीद के लिए 10 दिन का समय बढ़ाते हुए 25 जून तक तिथि निर्धारित की गई है। संबंधित पंजीकृत किसानों से बिचौलियों से बचने के लिए समर्थन मूल्य का लाभ लेने के लिए संपर्क किया जा रहा है। जबकि एफसीआइ में स्थान की कमी की कारण भंडारण नही हो पा रहा है।

By Ran Vijay Singh

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned