पत्नी को पढ़ा लिखाकर बनाया सिपाही, अब वह थानेेदार से मिलकर कर रही उत्पीड़न

अहरौला थाना क्षेत्र में सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक व्यक्ति ने शादी के बाद पत्नी के पढ़ाया लिखाया उसे पुलिस में नौकरी दिलाई। वर्दी मिलते ही महिला ने पति पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा कर दिया। पति ने तहरीर देकर आरोप लगाया है कि उसकी पत्नी के थानेदार से संबंध हैं। उसके साथ रहने के लिए वह उसका उत्पीड़न कर रही है।

By: Ranvijay Singh

Published: 21 Aug 2021, 11:27 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. कहते हैं कि कुर्सी और पैसा रिश्तों को भुला देता है। ऐसा ही कुछ अहरौला थाना क्षेत्र में हुआ। एक युवक ने शादी के बाद अपनी पत्नी को पढ़ाया लिखया। इसके बाद उसे तैयारी कराकर पुलिस में भर्ती कराया लेकिन वर्दी मिलते ही पत्नी जन्म जन्मांतर के रिश्ते को भूल गयी। उसने पति के खिलाफ ही दहेज उत्पीड़न का मुकदमा कर दिया। पति ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर पत्नी का थानेदार से अवैध संबंध होने तथा उसके साथ मिलकर उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। न्याय नहीं होने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है।

मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में अहरौला क्षेत्र के युवक ने कहा है कि पांच साल पहले उसकी शादी तहबरपुर थाना क्षेत्र की रहने वाली युवती से हुई। विवाह के बाद उसने पत्नी को पढ़ाया, ताकि वह कुछ कर सके। उसकी पत्नी का सपना था कि वह पुलिस में नौकरी करे। इसलिए उसने तैयारी करायी और पत्नी का चयन सिपाही के पद पर हो गया।

वर्ष 2018 में उसकी मिर्जापुर जिले में तैनाती हुई, जहां उसका थानाध्यक्ष से संबंध बन गया। थानाध्यक्ष का स्थानांतरण भदोही हुआ तो उसने उसे वहीं अटैच करा लिया। अब पत्नी ने एसओ की मदद से उस पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा अहरौला थाने में दर्ज करा दिया है।

उसे तरह तरह से धमकाया जा रहा है। इतने के बाद भी वह पत्नी के साथ रहना चाहता है लेकिन उसकी पत्नी थानेदार के साथ रहना चाहती है। इसलिए वह इस तरह का फर्जी मुकदमा दर्ज कराकर परेशान कर रही है। इस संबंध में उसने थाने से लेकर उच्चधिकारियों तक से न्याय की गुहार लगाई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। अगर सरकार भी उसके साथ न्याय नहीं करती तो वह थाने के सामने आत्मदाह करेगा।

Ranvijay Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned