Patrika Impact:  आजमगढ़ में शुरू हुई छापेमारी, सील की गयी पानी की फैक्ट्री

Patrika Impact:  आजमगढ़ में शुरू हुई छापेमारी, सील की गयी पानी की फैक्ट्री
Raid

नमूना सील कर जांच को जन विश्लेषक प्रयोगशाला लखनऊ भेज गया। वहीं टीम ने जिले के अन्य क्षेत्रों में भी अभियान शुरू किया 

आजमगढ. शीतल पेय स्प्राइट में कीडे़ निकलने की खबर वीडियो के साथ प्रकाशित करने के बाद एफडीए जाग गया है। दूसरे दिन से ही जिले में छापेमारी शुरू कर दी गयी है। अधिकारियों ने बिना लाइसेंस के संचालित एक पानी के पाउचिंग की कंपनी को सील कर दिया है। अभियान पूरे जिले में जारी है अब तक अधिकारी करीब आठ नमूने ले चुके है।

बता दें कि पत्रिका द्वारा 24 मई को गंभीरपुर थाना क्षेत्र के सिरसा बाजार में छह पेटी स्प्राइट की बोतलों में कीड़ा मिलने की खबर प्रकाशित की गयी। इसके बाद अधिकारियों की निद्रा टूटी और खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) के लोग अभियान में जुट गये। 
अधिकारियों ने उक्त दुकान पर छापेमारी कर शीतल पेय का नमूना लिया। इसके बाद सुरजनपुर बाजार स्थित चाय की दुकान से भी नमूने लिये गये। नमूना सील कर जांच हेतु जन विश्लेषक प्रयोगशाला लखनऊ भेज गया। वहीं टीम द्वारा जिले के अन्य क्षेत्रों फूलपुर, सरायमीर, सगड़ी आदि में भी अभियान शुरू किया गया। देवगांव कोतवाली के पीछे टीम द्वारा बिना लाइसेंस के संचालित पानी पाउचिंग की फैक्ट्री सील की गयी। 

मेहनाजपुर के इटौली, सिधौना आदि क्षेत्रों में मिठाई के नमूने एकत्र किये गये। कार्रवाई से पूरे जिले के दुकानदारों में हड़कंप मचा हुआ है। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी अभय कुमार सिंह ने बताया कि यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। नमूनों की जांच रिपोर्ट आने पर संबधित के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned