अर्चना ने आखिर क्यों उठाया इतना बड़ा कदम ...

अर्चना ने आखिर क्यों उठाया इतना बड़ा कदम ...

Sunil Yadav | Publish: Nov, 14 2017 11:05:19 PM (IST) | Updated: Nov, 15 2017 08:07:18 AM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

दस दिन पूर्व नौ माह के पुत्र संग मायके आई थी अर्चना

आजमगढ़. मन में न जाने कैसी हूक उठी की नौ माह के इकलौते बेटे को स्तनपान कराया और उसे सुलाकर मकान की छत पर पहुंची विवाहिता ने आत्मदाह कर लिया। घटना तहबरपुर थाना क्षेत्र के आतापुर गांव में मंगलवार दोपहर हुई। मृतका दस दिन पूर्व अपने इकलौते पुत्र के साथ ससुराल से मायके आई थी।

 

तहबरपुर थाना क्षेत्र के आतापुर ग्राम निवासी 25 वर्षीय अर्चना पुत्री शिवनरायन यादव की शादी गत दो वर्ष पूर्व सरायमीर थाना क्षेत्र के कोठिया ग्राम निवासी जितेंद्र पुत्र सुकरन यादव के साथ हुई थी। गत 2 फरवरी को अर्चना ने नवजात पुत्र को जन्म दिया परिवार वालों ने नवजात का नामकरण प्रांजल के रूप में किया अभी दस दिन पूर्व अर्चना अपने नौ माह के कुलदीपक प्रांजल के साथ मायके आई हुई थी। मंगलवार की दोपहर करीब 2.30 बजे उसने अपने पुत्र को स्तनपान कराया और फिर उसे चारपाई पर सुलाकर मकान के छत पर चली गई। वहां अर्चना ने शरीर पर मिट्टी का तेल उड़ेल कर स्वयं को आग के हवाले कर दिया।

 

यह भी पढें

महिला को अकेली पा कर अधिकारी ने पकड़ा हाथ, बचाव मेें महिला ने किया बेलन से वार

 

आग का शोला बनी अर्चना की चीख सुनकर परिवार के लोग भाग कर मौके पर पहुंचे। वहां का दृश्य देख सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। झुलसे हालत में अर्चना छत पर गिरकर तड़प रही थी। परिवार के लोग जब तक झुलसी हालत में पड़ी अर्चना को इलाज के लिए कहीं ले जाते उससे पहले ही उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना की सूचना पाकर तहबरपुर थानाध्यक्ष मौके पर पहुंच गए। मायके वालों की शिकायत पर पुलिस ने मृतका के पति को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मायके में हुई इस घटना से आतापुर गांव के लोग भी हतप्रभ हैं।

Ad Block is Banned