दशहरा पर किसानों को योगी सरकार का तोहफा, बाढ़ पीड़ित 28,182 किसानों को 11.80 करोड़ मिला मुआवजा

सगड़ी तहसील क्षेत्र में घाघरा की बाढ़ ने मचाई थी भारी तबाही, दो बार टूटा था बंधा

10 हजार के खाते में पहुंच गया है पैसा, बाकी के खाते में 24 घंटे में भेजने का निर्देश

आजमगढ़. दशहरा पर्व पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री ने त्योहार से पहले आन लाइन बटन दबाकर बाढ़ से हुए नुकासन की क्षतिपूर्ति किसानों के खाते में सीधे भेजने की शुरूआत कर दी है। पहले दिन 10 हजार किसानों के खाते में धनराशि पहुंच गयी है। बाकि के 18182 किसानों के खाते में धनराशि 24 घंटे में भेजने का निर्देश दिया गया है। इस बार घाघरा की बाढ़ ने सगड़ी क्षेत्र में भारी तबाही मचाई थी। इस दौरान दो बार रिंग बांध टूटने से फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गयी थी। सरकार ने कुल 28,182 किसानों के लिए 11 करोड़ 80 लाख रुपये जारी किया है।

बता दें कि सगड़ी तहसील क्षेत्र के दियारा में घाघरा की बाढ़ से प्रतिवर्ष तबाही मचती है। इस बार जुलाई से सितंबर माह के बीच दो बार रिंग बांध टूटा जिससे यह तबाही और बढ़ गयी। किसानों की हजारों एकड़ फसल बाढ़ में विलीन हो गयी तो कई घर व स्कूल कटान की भेंट चढ़ गए।

प्रशासन ने इस वर्ष बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन कर शासन को रिपोर्ट भेजी थी। जिसमें क्षतिपूर्ति के रूप में 52 करोड़ रूपये की डिमांड की गयी थी। इसमें किसानों के फसल क्षतिपूर्ति के लिए 15 करोड़ रुपये थे। प्रशासन ने 30 हजार से अधिक किसानों के लिए 12 करोड़, 68 लाख फ्रीज कर भेजे थे, जिसमें 11 करोड 80 लाख 28182 किसान फसल क्षतिपूर्ति आ गई है। 2600 किसान डबल नाम व अन्य कारणों से रह गए हैं। जिनका मिलान किया जा रहा है।

कम से कम एक किसान को धान की फसल के लिए एक हजार, गन्ने की फसल के लिए दो हजार और अधिकतम दो हेक्टेयर तक धान की फसल के लिए 27000 व गन्ने की फसल के लिए 36000 दिए जा रहे हैं। जबकि कटान के लिए प्रति हेक्टेयर 37500 रुपये दिया जा रहा है।

एक तरफ कोरोना संक्रमण और दूसरी तरफ बाढ़ से हुई बर्बादी के कारण आर्थिक तंगी से जूझ रहे किसानों को मुआवजा मिलने से बड़ी राहत मिली है। अब वे इस धनराशि से रबी के फसल की बोआई आसानी से कर सकेंगे। उप जिलाधिकारी सगड़ी ने बताया कि क्षतिपूर्ति किसानों को तत्काल भेजी जा रही है।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned