आजमगढ़ में मुखबिरी के शक में युवक को मारी गई गोली

आजमगढ़ में मुखबिरी के शक में युवक को मारी गई गोली
फायरिंग

Mohd Rafatuddin Faridi | Updated: 22 Apr 2018, 07:12:24 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

आजमगढ़ के जहानागंज अन्तर्गत दौलताबाद गांव में रविवार की दोपहर हुई घटना।

आजमगढ़. जहानागंज थाना क्षेत्र के दौलताबाद गांव में रविवार की दोपहर मुखबिरी के शक में 40 वर्षीय युवक पर असलहे से फायर झोंक दिया गया। गोली युवक के बाएं हाथ में लगी है। घायल का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है, वहीं स्थानीय पुलिस घटना को संदिग्ध मान रही है।


जहानागंज क्षेत्र के दौलताबाद गांव का रहने वाला 40 वर्षीय रमेश सिंह पुत्र रामअवतार सिंह रविवार की दोपहर अपने गांव के कुछ लोगों के साथ बैठकर बातचीत कर रहा था। उसी दौरान गांव के एक पक्ष के लोग वहां पहुंचे और दोनों पक्ष के बीच कहासुनी होने लगी। इसी दौरान एक पक्ष द्वारा असलहे से की गई फायरिंग के चलते मौके पर भगदड़ मच गई। असलहे से चलाई गई गोली रमेश के बाएं हाथ में लगी और वह लहूलुहान हो गया। घटना के बाद हमलावर पक्ष मौके से फरार हो गया। इसकी सूचना स्थानीय थाने को दी गई।

फायरिंग की सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायल युवक को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के संबंध में जहानागंज थाना प्रभारी का कहना है कि दौलताबाद गांव में फायरिंग की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने वहां घायल मिले युवक को अस्पताल में भर्ती कराया है। अभी गोली से घायल होने की घटना संदिग्ध प्रतीत होती है। मेडिकल परीक्षण में स्थिति स्पष्ट होने पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। वहीं घायल पक्ष की ओर से थाने में नामजद तहरीर दी गई है।

 

अस्पताल में उपचाराधीन रमेश सिंह का कहना है कि न्यायालय से किसी मामले में वारंट जारी होने पर पुलिस द्वारा कुछ समय पूर्व हमलावर पक्ष के तेजबहादुर सिंह को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी को लेकर हमलावर पक्ष उसके ऊपर पुलिस से मुखबिरी का शक कर रहा था। गांव में व्याप्त चर्चा के अनुसार तीन-चार दिन पूर्व दोनों पक्षों के बीच मछली मारने को विवाद हुआ था, जिसके चलते दोनों पक्षों में तनातनी चल रही थी। फिलहाल पुलिस घटना की जांच में जुटी हुई है।


गांगी नदी से अज्ञात युवक का शव बरामद
मेंहनाजपुर थाना क्षेत्र के कोसड़ा भगवानपुर गांव के पास रविवार की सुबह गांगी नदी में 40 वर्षीय युवक का उतराया शव बरामद किया गया। काफी प्रयास के बाद भी मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी। कोसड़ा भगवानपुर गांव स्थित गांगी नदी के किनारे रविवार की सुबह पशु चरा रहे ग्रामीणों ने नदी में उतराया शव देखा और गांव वालों को इसकी जानकारी दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नदी से बाहर निकलवाया। काफी प्रयास के बाद भी मृतक की शिनाख्त संभव नहीं हो सकी। मृतक के शरीर पर कुर्ता और पैजामा मौजूद था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
by Ran Vijay Singh

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned