अफसरों ने संभाला मोर्चा, खुली दुकानें कराई बंद, भीड़ को किया नियंत्रित

दुकानें खुलने सहित नगर में भीड़ नियंत्रित करने अधिकारियों ने फिर संभाला मैदान, सब्जी व्यापारियों को घर लौटाया, दुकानें कराई बंद

By: vishal yadav

Published: 20 May 2021, 11:19 AM IST

बड़वानी/सेंधवा. पिछले दो दिन से नगर में अघोषित छूट के नजारे के बाद बुधवार को एक बार फिर अधिकारियों की सख्ती दिखाई दी। चौराहों पर सब्जी का ठेला से लेकर जमीन व्यापारियों को घर लौटाया। वहीं खुली दुकानों को सख्ती से बंद कराया। इस दौरान एसडीएम, शहर थाना प्रभारी, नायब तहसीलदार सहित नपा कर्मचारी मैदान में डटे रहे।
दो दिनों तक खुली रही दुकानें, भीड़ ने बढ़ाई चिंता
नगर में सोमवार और मंगलवार को अघोषित छूट सी स्थिति दिखी। कई क्षेत्रों में दुकानदार घरों से निकले और दुकान खोलकर व्यापार करने लगे, जिससे हर क्षेत्र में भीड़ बढ़ी। मुख्य मार्गों पर वाहनों की भीड़ देखी गई। लोगों का कहना था कि व्यापारियों ने एक-दूसरे को देखकर दुकानें खोल ली। हालांकि पुलिस के वाहन दिनभर नगर में गश्त करते रहे। नगर के सदर बाजार, निवाली रोड, पुराना बस स्टैंड बाजार, राम बाजार मोतीबाग आदि क्षेत्रों में दुकानें खुली रही। बुधवार को सुबह नायब तहसीलदार प्रवीण चंगर व भंवरसिंह नगर में पैदल निकले और सब्जी और फल व्यापारियों को घरों को लौटाया। दुकानों को बंद कराया। शहर थाना प्रभारी बीएस मुजाल्दा पुलिस वाहन पर लोगों को घरों में रहने की अपील करते दिखे। एसडीएम तपस्या परिहार ने नगर का निरीक्षण किया। वहीं मनसा माता मंदिर पर लोगों की आवाजाही पर कार्रवाई की। इस दौरान नपा कर्मचारी भी मौजूद रहे। लापरवाही बरतने वाले कुछ लोगों के चालान भी बनाए गए है।
मई माह में कोरोना मामलो में आयी कमी
संक्रमण के लगातार बढ़ते खतरे के बीच मई माह में अब कुछ राहत भरी खबर सामने आने लगी है। अप्रैल माह में जिस तेजी से संक्रमित मिले थे। वैसे मई में नहीं दिख रहे है। एक्टिव कैस लेकर कंटेनमेंट क्षेत्र तक की संख्या पहले की तुलना कम हो गई। सेंधवा क्षेत्र में अप्रैल के बाद से तेजी से संक्रमण फैला था। मरीजों की संख्या बढऩे के साथ ही मौतों का ग्राफ दी एकदम बढ़ गया था, लेकिन अब राहत है। मई के शुरुआत से ही संक्रमण के आंकड़ों में गिरावट होने लगी। पिछले 10 दिन के एनालिसिस में एक्टिव मरीजों का संख्या भी कम हो गई।
होम क्वॉरेंटाइन मरीज भी घटे
संक्रमण की रफ्तार कम होने के साथ ही रिकवरी रेट में भी वृद्धि हुई है। यही वजह है कि पॉजिटिव आकार होम क्वॉरेंटाइन करा रहे मरीजों की संख्या भी अब तेजी से कम होने लगी है। होम क्वॉरेंटाइन मरीजों की स्थिति में सुधार हुआ है। वहीं जामली स्थिति कोविड केयर सेंटर में भी मरीजों की संख्या घटकर 19 रह गई है। अप्रैल माह में जामली में मरीजों की संख्या 75 तक चल गई थी, जो संक्रमित इलाज करा रहे है, वे भी अधिक क्रिटिकल नहीं है।

Show More
vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned