Barwani Patrika News : जिले के दूरस्थ अंचल से गुजर रही दो यात्री बस जब्त

मुंबई से आ रहे थे जिले सहित इंदौर व यूपी के 57 लोग, जिले के यात्रियों को क्वारेंटाइन सेंटर भेज, शेष को इंदौर रवाना किया

By: vishal yadav

Published: 20 May 2021, 12:08 PM IST

बड़वानी. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर प्रदेश सरकार द्वारा महाराष्ट्र से यात्री बसों की आवाजाही पर पिछले माह से प्रतिबंध लगाया गया है। मुख्य आगरा-बंबई रोड पर रोकथाम के चलते बस वाले अब जिले के सबसे दूरस्थ अंचल के शार्ट कट रास्तों से बसों की आवाजाही कर रहे है। बुधवार दोपहर शहर के पाटी नाका पर ऐसी दो बसों को रोका गया। ये बसें मुंबई से आ रही थी।
बस में बड़वानी जिले सहित इंदौर और उत्तरप्रदेश क्षेत्र के कुल 57 यात्री सवार थे। अधिकांश मजदूरी करने वाले परिवार शामिल है। इनके साथ छोटे-छोटे बच्चे भी है। शहर के पाटी नाका पर लगाए बेरिकेट्स पर पुलिस द्वारा इन बसों को रोका गया। इस दौरान राजस्व और नगर पालिका अमला भी पहुंचा। राजस्व विभाग ने बस को पुलिस के सुपुर्द कर कार्रवाई के निर्देश दिए। पुलिस द्वारा दोनों बसों के माध्यम से बाहर के रहवासियों को इंदौर भेेजा है। वहां से आने पर बसों पर कार्रवाई की बात कही। बता दें कि जिले में कोरोना की दूसरी लहर के मद्देनजर मार्च माह से महाराष्ट्र से बसों की आवाजाही बंद की गई है। इसके बाद भी बस वालों द्वारा जिले के नगरों व ग्रामों के रास्तों चोरी-छिपे आवाजाही की जा रही है। पहले खेतिया-राजपुर के रास्ते बसें इंदौर की ओर जा रही थी। वहीं वहां सख्ती होने से अब बस वालों की नजर जिले के सबसे दूरस्थ अंचल खेतिया-बोकराटा मार्ग पर पड़ी है।
तहसीलदार ने निभाया सरोकार
पाटी नाका पर दो यात्री बसों को रोककर सवारियां को उतारा गया। इस दौरान छोटे-छोटे बच्चे भूख से बिलखते नजर आए। मौके पर मौजूद तहसीलदार राजेश पाटीदार ने कार्रवाई के साथ सरोकार निभाते हुए ताबड़तोड़ रोटरी क्लब में समाजसेवी अजित जैन द्वारा जनसहयोग से शुरु की रसोई केंद्र पर संपर्क किया और वहां से स्वयं भोजन सामग्री लाकर यात्रियों को उपलब्ध करवाई।
जिले के यात्री क्वारेंटाइन, शेष को इंदौर भेजा
तहसीलदार राजेश पाटीदार ने बताया कि दोनों डबल डेकोर बसें है। एक बस में 32 और दूसरी बस में 25 यात्री सवार थे। इसमें 15 लोग जिले के रहवासी पाए गए। जिन्हें कोविड टेस्ट करवाने और सात दिन क्वारंटाइन के लिए आशाग्राम में बनाए केंद्र भेजा गया। वहां रहने-भोजन की व्यवस्था रहेगी। वहीं शेष लोग इंदौर और उत्तर प्रदेश के निवासी है। जिले के यात्रियों को यहीं रोका गया है। शेष यात्रियों को बसों के माध्यम से इंदौर भिजवाया है। बसों की जानकारी दर्ज की हैं, नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Show More
vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned