Baghpat: टिड्डियों के हमले से बचने के लिए इस दवा का करें इस्तेमाल

Highlights

  • टिड्डियों के हमले की आशंका जताई गई
  • किसानों को तैयार रहने को कहा गया
  • डीजे व ढोल—नगाड़े बजाने को कहा

By: sharad asthana

Updated: 28 May 2020, 04:30 PM IST

बागपत। जनपद में टिड्डी दल (Locust Attack) के पहुंचने की आशंका को लेकर कृषि विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए बचाव के उपाय भी सुझाये हैं। कृषि उपनिदेशक प्रशांत कुमार का कहना है कि किसान अपनी तैयारी रखें ताकि फसल का बचाव किया जा सके। प्रशांत कुमार ने बताया कि बागपत (Baghpat) जनपद में टिड्डी का वैसे तो कोई प्रकोप नहीं है लेकिन सावधानी के दृष्टिगत किसानों को कुछ तैयारियां जरूर कर लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ें: Weather Alert: सुबह होते ही छाए बादल, मौसम विभाग ने आज इन जिलों में दी तूफान की चेतावनी

इस दवा का करें छिड़काव

उन्होंने बताया कि ये टिड्डी शोर मचाने से नहीं बैठती हैं। अतः टिड्डी दल देखते ही समूह में किसान ढोल, नगाड़ा, डीजे (DJ), थालिया, डिब्बे बजाकर उनको खेतों में न बैठने दें। इसके साथ ही दवाई का छिड़काव करके भी इसके प्रकोप से बचा जा सकता है। इसके लिए क्लोरोपायरीफॅास ईसी 20 प्रतिशत अथवा मेलाथियान डस्ट रसायन का छिड़काव खेत में करें। सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे के मध्य छिड़काव करना लाभदायक होता है।

यह भी पढ़ें: यूपी के इस जिले में हो रही ऊंटों की तस्करी

डीएम ने ली बैठक

बता दें कि पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से चलकर लाखों की संख्या में एक टिड्डी दल राजस्थान (Rajasthan), हरियाणा (Haryana) के रास्ते यूपी (UP) में पहुंचने की संभावना है। इससे बचाव के लिए शासन स्तर से अलर्ट जारी किया गया है। गुरुवार को डीएम (Baghpat DM) ने भी विभागीय अधिकारियों से साथ एक बैठक ली और जरूरी निर्देश दिये है। डीएम शकुंतला गौतम ने कहा है कि इस टिड्डी दल से बचाव के उपायों को किसानों तक पहुंचाया जाये और निगरानी भी रखी जाये। इसको लेकर कृषि विभाग अधिकारियों ने भी किसानों को जागरूक करना आरम्भ कर दिया है।

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned