Video: किसान की पाठशाला में दी गई खरीफ की फसल की जानकारी

Video: किसान की पाठशाला में दी गई खरीफ की फसल की जानकारी

sharad asthana | Publish: Jun, 11 2019 03:27:29 PM (IST) Bagpat, Bagpat, Uttar Pradesh, India

  • बागपत के प्राथमिक विद्यालय कांहड़ में आयोजित की गई किसान पाठशाला
  • सहायक विकास अधिकारी ने दिए अच्‍छी फसल के टिप्‍स
  • जून-जुलाई से अक्‍टूबर तक होता है खरीफ की फसल का सीजन

बागपत। प्राथमिक विद्यालय कांहड़ में सोमवार को किसान पाठशाला का आयोजन किया गया। इसमें कृषि विभाग से आई टीम ने किसानों को खरीफ की फसल (Kharif Ki Fasal) की जानकारी दी। इसके लिए उन्‍होंने किसानों को अच्‍छी पैदावार के गुर भी बताए।

यह भी पढ़ें: VIDEO: एशिया की गुड़ मंडी में इस शहर ने हासिल किया प्रथम स्थान, केंद्रीय मंत्री, प्रदेश मंत्री समेत पहुंचे कई नेता

चल रही है खरीफ की फसल की तैयारी

सहायक विकास अधिकारी सत्यपाल सिंह ने सोमवार को प्राथमिक विद्यालय कांहड़ गांव में आयोजित किसान पाठशाला में किसानों को खरीफ की फसल की जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि किसान इस समय खरीफ की फसल की तैयारी में लगा हुआ है। इसके लिए सर्वप्रथम किसान अपने खेत की मिट्टी की जांच अवश्य करा ले। किसान धान की फसल की बुआई की तैयारी भी कर रहा है। इसके लिए किसान धान के अच्छे बीज की नर्सरी तैयार करे और उसमें जैविक खाद का प्रयोग ही करे।

यह भी पढ़ें: Patrika Exclusive: संजीव बालियान बोले- किसानों की परेशानी खत्‍म करेंगे, सिर्फ बछिया पैदा होंगी, बछड़े नहीं - देखें वीडियो

ऐसे बढ़ाएं पैदावार

उन्‍होंने कहा कि किसान को जमीन में गोबर की खाद का अधिक से अधिक इस्तेमाल करना चाहिए। इससे जमीन में ताकत बनती है तथा पैदावार भी बढ़ती है। टीम में कृषि तकनीकी सहायक नीरज सिंह, गन्ना पर्यवेक्षक अजय कुमार मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: प्रशासन ने दिए शाहबेरी की इमारतों को गिराने के आदेश, आशियाने को बचाने के लिए सड़कों पर उतरे लोग

खरीफ की फसलें

खरीफ की फसल का सीजन जून-जुलाई से अक्‍टूबर तक होता है। यह शब्‍द अरबी भाषा से लिया गया है। इसका मतलब पतझड़ होता है। इसमें निम्‍न फसलें होती हैं-

- धान (चावल)
- मक्का
- ज्वार
- बाजरा
- मूंग
- मूंगफली
- गन्ना
- सोयाबीन

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned