3 वर्षीय बच्ची ने कमिश्नर से कहा- अंकल मेरे साथ 2 लोगों ने किया रेप तो भावुक हुए अधिकारी ने उठाया ये कदम

3 वर्षीय बच्ची ने कमिश्नर से कहा- अंकल मेरे साथ 2 लोगों ने किया रेप तो भावुक हुए अधिकारी ने उठाया ये कदम

lokesh verma | Publish: May, 17 2019 12:57:04 PM (IST) Bagpat, Bagpat, Uttar Pradesh, India

  • बागपत में 3 वर्षीय मासूम से बलात्कार का मामला
  • स्थानीय पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो कमिश्नर से लगाई न्याय की गुहार
  • कमिश्नर ने बागपत एसपी को दिए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

बागपत. बड़ौत कोतवाली क्षेत्र में करीब डेढ़ माह पहले दो दरिंदों की हैवानियत का शिकार हुई 3 साल की एक मासूम बच्ची को अभी तक भी न्याय नहीं मिल सका है। इंसाफ के लिए तीन वर्षीय रेप पीड़िता परिजनों के साथ दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है। आरोप है कि स्थानीय पुलिस केस दर्ज करने के बावजूद न तो आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई कर रही है और न ही पीड़ित बच्ची को सुरक्षा दे पा रही है, जिसके चलते आरोपी पीड़ित पक्ष पर लगातार फैसले का दबाव बना रहे हैं। इसी को लेकर मासूम बच्ची कमिश्नर से मिली और आपबीती सुनाई। बच्ची की आपबीती सुन कमिश्नर भावुक नजर आए। इसके बाद उन्होंने तुरंत एसपी बागपत को पूरे प्रकरण में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें - भीषण सड़क हादसा: ट्रक में घुसी बारातियों से भरी वैन, 3 युवकों की मौत के बाद परिवार में हाहाकार, देखें वीडियो-

उल्लेखनीय है कि कोतवाली बड़ौत क्षेत्र के एक गांव में गत 8 मार्च को दो दरिंदे ने एक तीन वर्षीय बच्ची को उठाकर ले गए थे और उसके साथ बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया था। परिजनों को बच्ची लहूलुहान बेहोशी की हालत में मिली थी। इस मामले में बच्ची के पिता ने कोतवाली बड़ौत में दो लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपियों पर पुलिस ने पोक्सो एक्ट भी लगाया है। पीड़ितों का आरोप है कि बड़ौत पुलिस सत्ता पक्ष के एक नेता के दबाव में काम कर रही है और घटना के करीब डेढ़ माह बाद भी आरोपियों के विरूद्ध अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। आरोप है कि आरोपी उन पर फैसले के लिए दबाव बना रहे हैं। इतना ही नहीं एक दिन आरोपी पक्ष हथियार लेकर उनके घर में घुस आया और पीड़ित मासूम के अपहरण का प्रयास किया। परिजनों ने किसी प्रकार बच्ची का बचाया। उनका कहना है कि आरोपी फैसला न करने पर बच्ची को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें- आजम खान और प्रशासन आमने-सामने, जिला प्रशासन करने जा रहा यह बड़ी कार्रवाई

पीड़ित पक्ष इस मामले को लेकर बुधवार को मंडलायुक्त से मुलाकात की और आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई करने की मांग की। इस प्रकरण को मंडलायुक्त ने काफी गंभीरता से लेते हुए एसपी को आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। गुरुवार को पीड़ित एएसपी रणविजय सिंह से भी मिले और उन्हें हाईकोर्ट व मंडलायुक्त के आदेशों से अवगत कराते हुए आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें- कांग्रेस के इस बड़े नेता दावा, हार देख बौखलाए आजम खान, मानसिक संतुलन भी बिगड़ा

एएसपी ने विवेचक को किया तलब

एएसपी ने इस मामले में अभी तक कार्रवाई न होने पर नाराजगी व्यक्त की है और केस के विवेचक को अपने कार्यालय में तलब किया है। एएसपी ने कहा है कि महिलाओं व बच्चियों के प्रकरण में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दास्थ नहीं की जाएगी।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर...

UP Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned