कोरोना पॉजीटिव की फैलाई अफवाह, पुलिस ने सिखाया ऐसा सबक

एक तरफ केंद्र व प्रदेश सरकार जहां कोरोना खतरे से बचाव के उपाय बता रही हैं वहीं जयपुर के नरैना कस्बे के कुछ सोशल मीडिया ग्रुपों में समाजकंटकों ने नरैना में 3 कोरोना पॉजीटिव मिलने की फेक न्यूज चलाकर लोगों में दहशत फैला दी।

नरैना. एक तरफ केंद्र व प्रदेश सरकार जहां कोरोना खतरे से बचाव के उपाय बता रही हैं वहीं जयपुर के नरैना कस्बे के कुछ सोशल मीडिया ग्रुपों में समाजकंटकों ने नरैना में 3 कोरोना पॉजीटिव मिलने की फेक न्यूज चलाकर लोगों में दहशत फैला दी। सोशल मीडिया में इस तरह के मैसेज आने के बाद नरैना थाना प्रभारी रघुवीर सिंह व स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने तुरंत भाम्रक प्रचार-प्रसार नहीं करने की अपील की। साथ ही सिंह ने बताया केंद्र व राज्य सरकार द्वारा ऐसे अफवाह भरे मैसेज करने पर रोक लगाकर कानूनी कार्रवाई के निर्देश दे रखे हैं।
दो युवक गिरफ्तार
जयपुर जिला पुलिस अधीक्षक शंकरदत्त शर्मा के निर्देश व दूदू एएसपी लक्ष्मणदास स्वामी व सीओ देवेंद्रसिंह के सुपरविजन में थाना प्रभारी सिंह ने तत्परता दिखाते हुए एएसआई मनोहर सिंह, कांस्टेबल ताराचंद व प्रेम कुमार की टीम बनाकर अफवाह फैलाने वाले सोनू कुमार व रवि कुमावत को गिरफ्तार कर लिया। सिंह ने लोगों से अपील की कि कस्बे में कोई भी व्यक्ति कोरोना का पॉजीटिव नहीं है। दोनों अफवाह फैलाने वाले युवकों को भी मास्क पहनाए गए।
भयभीत हो रहे हैं लोग, मनरेगा कार्य भी बंद
करणसर. कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में कोरोना की दस्तक से लोग भयभीत हैं। राजकीय व निजी स्कूलों में अवकाश, बोर्ड व कॉलेज परीक्षाओं के स्थगित होने के साथ ही शुक्रवार को मनरेगा कार्य भी बंद हो गए। इस कारण अब ग्रामीण क्षेत्र के गरीबों के लिए काम भी बंद हो गया है। लोग रोग से बचाव के उपाय, तरीके समझा रहे हैं। धारा 144 की अनुपालना करने, मास्क लगाने, स्वच्छता के प्रति प्रेरित कर महामारी को भगाने, रविवार को १४ घंटे तक घर में ही रहने के बारे में कहा गया है।

Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned