कोरोना: ग्राहकों को घेरे में किया खड़ा, फिर तौला माल

- लॉक डाउन का नहीं कर रहे सभी लोग पालन, समझ रहे महामारी के खतरे को

 

चौमूं. प्रदेश में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना रोगियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होने के बावजूद शहर समेत ग्रामीण क्षेत्र के सभी लोग इसे गम्भीरता नहीं ले रहे हैं। स्थिति ये है कि परचूनी व किराना स्टोर की दुकान खुलते ही लोगों का हुजूम उमड़ पडता है, जिसके भीड़भाड़ की स्थिति बन जाती है। इससे निजात दिलाने के लिए नगरपालिका प्रशासन ने बाजारों में जाकर दुकानों के सामने सफेद चॉक से घेरे बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग के तहत ग्राहकों को खड़ा किया। इसके बाद व्यवस्था सुचारू हो पाई।
जानकारी के अनुसार 22 मार्च के जनता कफ्र्यू के बाद राज्य सरकार ने 23 मार्च को लॉक डाउन कर दिया था। २४मार्च को प्रधानमंत्री ने कोरोना महामारी के गम्भीर दुष्परिणामों के मद्देनजर देशभर में तीन हफ्तों के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया था। पुलिस प्रशासन ने भी सख्ती दिखाई। उपखंड प्रशासन, नगरपालिका एवं पुलिस प्रशासन के प्रयास रहे कि जनता घरों में ही रहे। बिना किसी जरूरी काम के घरों से बाहर नहीं निकले। बाजारों और सड़क मार्गों पर अनावश्यक नहीं घूमें, लेकिन सख्ती के बावजूद अब भी कुछ लोग ऐसे हैं, जो घरों से बाहर निकल रहे हैं। थाना मोड़,बस स्टैण्ड समेत विभिन्न स्थानों पर तैनात पुलिसकर्मी बाजारों में घूमने वाले लोगों से कड़ी पूछताछ भी कर रहे हैं। बिना कार्य के बाजार आने वाले लोगों के 'मैं देश का दुश्मनÓ नाम लिखे पोस्टर के साथ फोटो भी खिंचवाए।

दुकानों पर उमड़े तो...

चौमूं में सुबह जैसे ही बाजार में परचूनी व किराना स्टोर की दुकानें खुलीं तो लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस एवं पालिका प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर दुकानों के आगे गोल-गोल घेरे बनाए गए, जिनमें ग्राहकों को खड़ा किया। इसके बाद एक-एक करके ग्राहकों को दुकानदार ने सामान दिया। लक्ष्मीनाथ चौक बाजार, सदर बाजार, मोरीजा रोड बाजार समेत अन्य बाजारों में यह व्यवस्था नजर आई।


कालाबाजारी का आरोप

कुछ लोगों ने शिकायत की है कि कोरोना वायरस के चलते किए जा रहे लॉक डाउन में दूध, आटा, दाल, तेल, चीनी, कपड़े धोने के साबुन, मसालों, चाय समेत अन्य सामानों पर अधिक राशि वसूली जा रही है ।

Ramakant dadhich Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned