गरीबों के गेहूं पर राशन डीलर डाल रहा था डाका, पकड़ी ऐसी हेराफेरी कि दंग रह गए सब

- रसद विभाग की टीम ने तोल में पकड़ी 3 किलो की गड़बड़ी

By: Kashyap Avasthi

Published: 16 May 2020, 11:16 PM IST

जयपुर. कोरोना लॉकडाउन में गरीबों के राशन को उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार व भामाशाह भरसक प्रयास में जुटे हैं वहीं राशन डीलर अनियमितताएं बरत रहे हैं। ऐसा ही मामला सामने आया है फुलेरा के समीप माल्यावास गांव का। जहां राशन डीलर गरीब के गेहूं पर डाका डालता हुआ पकड़ा गया। रसद विभाग की टीम ने दुकान को सील कर दिया है।


जानकारी के मुताबिक राशन डीलर लोगों को तोलकर देने वाले गेहूं के दौरान ही कांटे में छेड़छाड़ कर कम गेहूं दे रहा था। साथ ही अधिकतर लोगों को एक माह का गेहूं नहीं देने के बाद भी राशन कार्ड में चढ़ाने की शिकायत सांभर उपखंड अधिकारी से की गई। इसके बाद सैकेट्री ने दुकान को सील कर दिया। इस मामले की जांच के लिए शनिवार सुबह रसद विभाग की टीम के प्रवर्तक निरीक्षक जयराम गुर्जर व सुमन चौधरी मौके पर पहुंचे मामले की जांच को लेकर लोगों के बयान दर्ज किए।


इसके बाद सील की गई दुकान को सैकेट्री रामावतार टेलर से खुलवाकर कांटे की जांच की तो कांटे में 2 किलो 700 ग्राम से अधिक की हैराफेरी पाई गई। इसके बाद स्टॉक की जांच की गई। जिन उपभोक्ताओं ने राशन नहीं मिलने की शिकायत की है उसकी जांच की जा रही है। ऑनलाइन जांच करने के बाद ही पता चल सकेगा कि किसे राशन सामग्री नहीं मिली है। जांच के समय एक बारगी ग्रामीणों का हुजूम उमड़ पड़ा और लोग सोशल डिस्टेंस की पालना भूल गए। सूचना पर थानाधिकारी सुरेन्द्र सिंह मौके पर पहुंचे और भीड़ को तितर-बितर किया।

Kashyap Avasthi Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned