पालिकाध्यक्ष के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी, पार्षद गिरफ्तार

पालिकाध्यक्ष के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी, पार्षद गिरफ्तार
पालिकाध्यक्ष के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी, पार्षद गिरफ्तार

Ramakant Dadhich | Updated: 11 Oct 2019, 04:01:50 PM (IST) Bagru, Jaipur, Rajasthan, India

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मामले में कांग्रेस पार्षद गौरीशंकर छीपा को गिरफ्तार कर लिया।

चौमूं. कांग्रेस और भाजपा के बीच दो दिन से चल रही खींचतान के बाद गुरुवार को नगरपालिकाध्यक्ष ने पालिका के नेता प्रतिपक्ष समेत तीन जनों के खिलाफ सोशल मीडिया पर अशोभनीय टिप्पणी करने एवं सार्वजनिक रूप से उनकी प्रतिष्ठा धूमिल करने का मामला दर्ज करवाया है। इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मामले में कांग्रेस पार्षद गौरीशंकर छीपा को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उसे एसीपी चौमूं के सामने पेश किया गया, जहां से उसे जेल भिजवा दिया गया। थानाधिकारी हेमराज सिंह ने बताया कि दर्ज करवाए गए मामले के अनुसार पालिकाध्यक्ष ने आरोप लगाया कि वार्ड-12 के कांग्रेस पार्षद गौरीशंकर छीपा व पार्षद व नेता प्रतिपक्ष शैलेन्द्र चौधरी उससे राजनीतिक रंजिश रखते हैं। आरोपी एवं इनका साथी ओमप्रकाश चौधरी पिछले कुछ समय से मोबाइल का दुरुपयोग कर स्वयं की फेसबुक आईडी एवं अन्य फर्जी फेसबुक आईडी से उनका व भाजपा पदाधिकारियों, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों आदि के खिलाफ अपमानजनक अशोभनीय टिप्पणियों के मैसेज फेसबुक पर प्रसारित कर रहे हैं। वहीं उनके खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं। 9 अक्टूबर 2019 को गौरीशंकर छीपा तथा ओमप्रकाश चौधरी द्वारा शैलेन्द्र चौधरी के साथ मिलकर फेसबुक आईडी के जरिए उसके खिलाफ अशोभनीय मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद पार्षद गौरीशंकर छीपा को गिरफ्तार कर एसीपी के सामने पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया।


अध्यक्ष-भाजपा पार्षदों पर राजकार्य में बाधा का मामला दर्ज
नगरपालिका के कार्यवाहक अधिशासी अधिकारी ने थाने में नगरपालिका अध्यक्ष, अध्यक्ष पति, भाजपा पार्षदों समेत अन्य के खिलाफ कार्यालय पर ताला लगाने, राजकार्य में बाधा पहुंचाने एवं कर्मचारियों को बंद करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने बताया कि कार्यवाहक अधिशासी अधिकारी सूर्यकांत शर्मा ने दर्ज मामले में बताया कि 8 अक्टूबर को दोपहर 1.30 बजे नगरपालिका अध्यक्ष पति ने होर्डिंग लगाने की बात को लेकर परिवादी को गाली-गलौच एवं मारपीट की धमकी दी। जिस पर नेता प्रतिपक्ष व आस-पास के लोगों ने समझा-बुझाकर मामला शांत करवा दिया। इसके बाद 9 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे सभी कर्मचारियों को बाहर निकालकर नगरपालिका अध्यक्ष ने ताला लगा दिया। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष व आमजन को भी अन्दर बन्द कर ताला लगा दिया। इसके करीब 20 मिनट बाद आमजन ने ताला तोडक़र सभी को बाहर निकाला एवं कर्मचारी अन्दर गए। इसके बाद आधा घंटे बाद नगरपालिका अध्यक्ष व भाजपा पार्षद गजेन्द्र यादव, राहुल शर्मा, कुन्दनसिंह शेखावत, प्रहलाद टेलर, श्यामसुन्दर शर्मा, रमेश टोडावता, मनोज कुमावत, मुकेश सैनी, अनिल मीणा व इनके अलावा महेश शेरावत, दौलत जाट व अन्य लोगों के साथ आए एवं नगरपालिका में धक्का-मुक्की की एवं अभद्रता कर राजकार्य में बाधा डाली और ताला लगाकर अंदर बंद कर दिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned