बर्निंग ट्रक बनने से पहले ही कूदा, वरना हो जाता गंभीर हादसा

थाना इलाके के मनोहरपुर-दौसा राष्ट्रीय राजमार्ग पर शिवपुरी के समीप शुक्रवार दोपहर को साइड में खड़े एक ट्रक में आग लग गई। घटना के समय खलासी केबिन में सो रहा था, जैसे ही धुआं देखा ट्रक से कूदकर अपनी जान बचाई।

By: Ashish Sikarwar

Updated: 23 May 2020, 06:32 PM IST

मनोहरपुर. थाना इलाके के मनोहरपुर-दौसा राष्ट्रीय राजमार्ग पर शिवपुरी के समीप शुक्रवार दोपहर को साइड में खड़े एक ट्रक में आग लग गई। घटना के समय खलासी केबिन में सो रहा था, जैसे ही धुआं देखा ट्रक से कूदकर अपनी जान बचाई। मनोहरपुर थाना पुलिस की सूचना पर शाहपुरा से पहुंची दमकल से आग पर काबू पाया। आग लगने का संभावित कारण भीषण गर्मी के चलते शार्ट सर्किट हो सकता है।
एएसआई रमेश चंद ने बताया कि मनोहरपुर-दौसा राष्ट्रीय राजमार्ग पर आगरा से प्याज खाली करके एक ट्रक मनोहरपुर की ओर आ रहा था। इसी दौरान चालक राजू ट्रक को साइड में खड़ा करके नीचे उतर गया। वहीं खलासी डालूराम बैरवा ट्रक में ही रह गया। अचानक ट्रक के केबिन में लपटों के साथ धुआं उठता दिखाई देने पर खलासी ने ट्रक से कूदकर अपनी जान बचाई। आग से ट्रक के टायर भी जल गए। गनीमत रही कि आग डीजल टैंक तक नहीं पहुंची अन्यथा बड़ा हादसा हो जाता। दमकलकर्मी मुकेश बालानी और उनकी टीम ने आग पर काबू पाया।
टायर भी जले
आग लगने से ट्रक के टायर भी जल गए। जिससे ट्रक नीचे बैठ गया। टायरों की आग को बुझाने में समय लग गया। सबसे बड़ी बात रही कि आग डिजल टैंक पर अपना असर नही डाल पाई। अन्यथा बड़ा हादसा घटित हो सकता था।
इधर कांस्टेबल सहित दो की मौत
कोटपूतली. जयपुर दिल्ली राजमार्ग पर गुरुवार रात पुतली कट के समीप ट्रोले की चपेट में आने से एक पुलिस कांस्टेबल सहित दो जनों की मौत हो गई। वहीं पास खड़ी बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस कांस्टेबल लॉकडाउन के दौरान यहां पनियाला थाने में पद स्थापित हुआ था।
पुलिस के अनुसार कांस्टेबल सहित इसके साथ एक अन्य व्यक्ति कट के समीप सड़क के किनारे $खड़े होकर आपस में बात कर रहे थे। इसी दौरान ट्रोले ने इनको टक्कर मार दी। इससे कांस्टेबल कृष्ण कुमार (45) पुत्र धंसीराम गुर्जर निवासी जमालपुरा थाना खेतड़ी जिला झुंझुनूं हाल निवासी श्याम मंदिर कोटपूतली और रतन लाल उर्फ जीतू (45) पुत्र हरिराम सैनी निवासी वार्ड नंबर 16 मौहल्ला बूचाहेड़ा कोटपूतली घायल हो गए। घायलों को बीडीएम से जयपुर रैफर कर दिया। कांस्टेबल ने रास्ते में वहीं रतनलाल ने एसएमएस में दम तोड़ दिया।
कांस्टेबल जयपुर ग्रामीण पुलिस लाइन में कार्यरत था। उसे लॉकडाउन के दौरान अतिरिक्त जाप्ते के साथ यहां पनियाला थाने में भेजा गया था। इसके पैतृक गांव जमालपुर में पुलिस सम्मान के साथ अन्तिम संस्कार किया गया। जयपुर ग्रामीण पुलिस लाइन की एक टुकड़ी ने गांव में पहुंचकर कांस्टेबल को अन्तिम सलामी दी।

Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned