Lockdown: लापरवाही... नहीं रुक रहा श्रमिकों का पलायन

- जो वाहन मिला, उसी में घर जा रहे मजदूर - सीमा पर पुलिस ने रोका तो लगा लोगों का मेला

By: Teekam saini

Published: 31 Mar 2020, 03:29 PM IST

जयपुर/बगरू. प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री की अपील व सरकार की लाख कोशिशों के बाद भी श्रमिकों का पलायन नहीं रुक पा रहा है। जिसको जो तरीका सही लगा वह वैसे ही अपने घर की ओर निकल पड़ा। कोई पैदल तो कोई ट्रकों में चोरी छुपे जाने की कोशिश कर रहा है। लॉकडाउन की पालना के सख्त आदेशों के बाद रविवार शाम को सीमाएं सील की गई तो जयपुर-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सोमवार सुबह निजी बसों के अन्दर तथा छतों पर खचाखच भरे श्रमिक व वाहन चालक नियमों की अवेहलना करते हुए नजर आए। इस दौरान वाहन व मजदूरों का मेला सा लग गया। इस दौरान पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) कावेंद्र सिंह सागर व वैशालीनगर सहायक पुलिस उपायुक्त रायसिंह बेनीवाल जयपुर शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों को बगरू थाने की सीमा पर रोकने के लिए खुद मौके पर मौजूद रहे। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने दूदू एसडीएम को इनकी व्यवस्था करने के लिए कहा गया। सूचना मिलने पर नायब तहसीलदार संदीप बैरठ व पटवारी भवानीशंकर शर्मा आदि मौके पर पहुंचे। इस दौरान उत्तर प्रदेश व अन्य राज्यों में जाने वाले करीब सौ से अधिक श्रमिकों को रोककर कस्बे के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जांच की गई। इनके रुकने व खाने की व्यवस्था कस्बे सहित आसपास के सरकारी स्कूलों में की गई है। वहीं भांकरोटा थाना पुलिस ने भी बाहर से आए श्रमिकों को कस्बे के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जांच कराने के लिए लेकर आए।
लापरवाही ना पड़ जाए भारी
लॉकडाउन के दौरान निजी वाहनों पर लगाई गई रोक पर सोमवार को लोगों की वजह से इसका असर फीका देखा गया। कस्बे में राशन मिलने की अफवाह पर लोग घरों से बाहर निकलकर उपतहसील, नगरपालिका व जीएसएस पर राशन के लिए पहुंचे। जहां मौजूद पुलिस मित्र ने समझाइश कर वापस घर भेजा गया। इस दौरान कुछ लोग रुपए निकलाने के लिए बैंकों को बाहर खड़े हो गए। ऐसे में लॉकडाउन की धज्जियां उड़ती नजर आई।

Teekam saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned