नेशनल लॉकडाउन ने तोड़ी उद्योगों की कमर, आधा भी नहीं रहा उत्पादन

कोरोना संकट को लेकर लॉकडाउन कर दिया गया है। इसका सीधा असर व्यापारियों पर पड़ रहा है। किराना, दूध, फल-सब्जी की दुकानों को छूट मिलने के बाद भी लोगों के घरों से बाहर नहीं निकलने से धंधा ठप हो गया है।

दूदू. कोरोना संकट को लेकर लॉकडाउन कर दिया गया है। इसका सीधा असर व्यापारियों पर पड़ रहा है। किराना, दूध, फल-सब्जी की दुकानों को छूट मिलने के बाद भी लोगों के घरों से बाहर नहीं निकलने से धंधा ठप हो गया है। दूसरी तरफ सरकार द्वारा कपड़ा व रेडीमेड, मोबाइल, मोटर पाट्र्स, होटल-ढाबों सहित अन्य प्रतिष्ठानों के खोलने पर पाबंदी लगा देने से व्यापारी घर बैठे हैं। दुकानों के बंद रहने से व्यापारियों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। किराना एवं खाद्य पदार्थ व्यापार संघ अध्यक्ष शिशुपाल चौधरी ने बताया लॉकडाउन में सरकार ने किराना एवं खाद्य पदार्थ बेचने वाले व्यापारियों को छूट तो दे दी है, लेकिन लोगों के घरों से नहीं निकलने से धंधा ठप है। साथ ही ट्रांसपोर्ट बंद कर देने से जयपुर व अन्य जगहों से माल नहीं आ रहा है। कुछ दिनों में जो व्यापारियों के पास स्टॉक है वो भी खत्म हो जाएगा।
दूदू सहित आसपास का ऐसा है हाल
दूदू सहित आसपास के क्षेत्र में लगभग 250-300 किराना दुकानें हैं। दूदू में 30 दुकानों पर जहां प्रतिदिन 60-70 लाख रुपए का टर्न ओवर होता था। जो अब घटकर दो से तीन लाख रुपए रह गया है।
कपड़ा एवं रेडीमेड व्यापार संघ अध्यक्ष सरदारसिंह नाहर ने बताया सभी दुकानें बंद हैं। व्यापारियों का 30-40 लाख रुपए का टर्नओवर रुक गया। मोबाइल एसोसएिशन सदस्य पवन नाहर ने बताया दुकानें बंद होने से प्रतिदिन व्यापारियों को 7 से 8 लाख रुपए का नुकसान हो रहा है। रिचार्ज व पाट्र्स आदि नहीं मिलने से लोग परेशान हैं। ट्रक व्यापार संगठन अध्यक्ष रफीक अहमद मंसूरी ने बताया ट्रकों के बंद करने से मोटर पाट्र्स व्यापारियों के साथ ही वाहनों का काम करने वाले मिस्त्री भी बेरोजगार हो गए हैं। (निसं)
दो करोड़ का कारोबार प्रभावित
माधोराजपुरा. चार दिन से बंद कृषि उपज मंडी व कोल्ड स्टोरेज में दो करोड़ का कारोबार प्रभावित हुआ है। मंडी व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेंद्रकुमार बाकलीवाल ने बताया मंडी में रोज जिसंवार एक हजार से अधिक बोरियों की आवक हो रही थी पूर्व में खरीदे माल का बेचान नहीं हो रहा है। कोल्ड स्टोरेज व्यवस्थापक रामस्वरूप कुमावत ने बताया चार दिन से कामकाज ठप होने से तीस लाख का नुकसान हो चुका है।

Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned