इमरजेंसी हालातों में सराहनीय काम कर रहे अखबार: एसपी

जिला पुलिस अधीक्षक ने हॉकरों की मीटिंग ली

अलवर. जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान पैदा हुए इमरजेंसी हालातों में अखबार सराहनीय काम कर रहे हैं। आज अखबार ही है जो लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण और उससे बचाव की सटीक और सही जानकारी पहुंचा रहा है। साथ ही लोगों को इसके प्रति जागरुक भी कर रहा है। पुलिस अधीक्षक देशमुख ने बुधवार को अलवर के हॉकरों की मीटिंग लेते हुए यह बात कही।
उन्होंने कहा कि अखबार वितरण के दौरान कोई भी पुलिसकर्मी उन्हें न रोके, इसके लिए सभी हॉकर अपने पास अपना पहचान पत्र रखें। पुलिस कंट्रोल रूम, सम्बन्धित पुलिस थाना, एडीएम या एसडीएम कार्यालय से अपना एंट्री पास भी जरुर बनवा लें, ताकि किसी प्रकार की कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़े। इस दौरान हॉकरों ने कलेक्शन को लेकर आने वाली समस्या को रखा। इस पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी हॉकर अखबार वितरण के बाद सुबह या फिर शाम को प्रशासन की ओर से दी गई छूट के दौरान अपना कलेक्शन कार्य कर सकते हैं।

पत्रिका ने बीमार तक पहुंचाई दवा, निभाया धर्म
रेलमगरा. सामाजिक सरोकारों को निभाने में राजस्थान पत्रिका हमेशा आगे रहा है। अभी लॉक डाउन के चलते एक बीमार को समय पर दवा पहुंचा कर जिम्मेदारी निभाई गई। हुआ यूं कि रेलमगरा निवासी नीतू आमेटा को ऑर्थोराइटिस बीमारी के चलते नियमित रूप से दवा लेने के निर्देश हैं। अभी दवा खत्म हो गई, एेसे में उनके सामने मुश्किल हो गई। एेसे में ऐसी स्थिति में बीमार नीतू के पति महेश आमेटा ने पत्रिका के वितरक महावीर महता को समस्या से अवगत कराया। इस पर उन्हें इन दवाओं को पत्रिका कार्यालय भिजवाने के लिए कहा गया। आमेटा के परिचित व्यक्ति ने इन दवाओं को उदयपुर स्थित पत्रिका कार्यालय पहुंचाया, जहां संपर्क कर इन दवाओं को बुधवार सुबह रेलमगरा पहुंची पत्रिका की टैक्सी के चालक के साथ मंगवाकर महेश आमेटा को मुहैया करा दी गई। दवा समाप्त होने के बाद समस्याओं से जूझ रहे नीतू आमेटा सहित उसके परिवारजनों ने पत्रिका का आभार जताया।

लॉकडाउन में निकले पूर्व विधायक, पुलिस ने किया स्कूटर जब्त
निवाई . कोरोना वायरस को लेकर केन्द्र सरकार से लॉक डाउन के आदेश के बाद पुलिस और प्रशासन ने बुधवार को दोपहर 12 बजे के बाद घर बाहर निकलने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की। बुधवार को सब इंस्पेक्टर मुन्नीराम के नेतृत्व पुलिस की टीम ने दर्जनों वाहनों को जब्त किया। इस दौरान के पूर्व विधायक ग्यारसीलाल परिडवाल भी अपने स्कूटर से बाहर निकले तो पुलिस ने उन्हें रोक दिया। उन्होंने अपना परिचय देते हुए बताया कि वह पूर्व विधायक है। इस पर सब इंस्पेक्टर ने कहा कि कानून सबके लिए बराबर है और पूर्व विधायक का स्कूटर जब्त कर लिया। पुलिस ने शहर में सड़क पर आने वाले लोगों की ओर लाठियां फटकार घरों की ओर दौड़ पड़े। बुधवार को प्रशासन ने लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी।

jagdish paraliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned