गाय का शिकार कर सुरंग में घुसा पैंथर, फंसने की हुई मौत

- पैंथर को पहाड़ी पर ढूंढऩे निकल पड़े दर्जनों ग्रामीण

Teekam Saini

26 Mar 2020, 09:27 PM IST

तूंगा/कानोता. ग्राम पंचायत किशनपुरा में एक पैंथर ने गांव में गाय का शिकार कर लिया। इससे गांव में दहशत फैल गई। बाद में ग्रामीणों ने वन विभाग के उच्चाधिकारियों को घटना की जानकारी दी और खुद भी पहाड़ी में पैंथर को ढूंढऩे निकल पड़े। ग्रामीणों को वह पहाड़ी में बनी एक सुरंग के भीतर जाता दिखाई दिया। इसके बाद ग्रामीण दोपहर तक वहीं डटे रहे। सुरंग से पैंथर का मुंह दिख रहा था। इसकी सूचना रेंजर को दी। वनकर्मी सीताराम गुर्जर नईनाथ धाम नाका वाला मौके पर पहुंचे। रेंजर ने कर्मचारी को जयपुर भेजकर पिंजरा मंगवाया। जानवर को पकडऩे के लिए सुरंग के पास रख दिया।
गुफा में फंसकर मरा पैंथर
शाम ६ बजे बस्सी रैंजर भी मौके पर पहुंचा गुफा का मौका देखा। वे खुद ही गुफा में घुसे और उसमें पैंथर की आंखें दिखने की पुष्टि की। आधा घंटे तक इंतजार के बाद भी वह बाहर नहीं निकला। जिस पर रैंजर वनकर्मियों के साथ गुफा में अंदर जाकर देखा तो पैंथर पत्थरों में फंसा हुआ था और मर चुका था। जिसको रस्सियों की सहायता से पैंथर को बाहर निकाला। बाद में वाहन में रखकर कानोता रैंज कार्यालय में ले गए।
पोस्टमार्टम कर किया अंतिम संस्कार
गुरुवार को कानोता शहीद की पुलिया स्थित वन विभाग कार्यालय लाकर पोस्टमार्टम किया। बाद में उसका अंतिम संस्कार कर दिया। एसीएफ मनफूल विश्नोई, डॉ. राजेन्द्र, कानोता पुलिस व रेंज ऑफिसर सीताराम मीणा सहित वन विभाग बस्सी की टीम की मौजूदगी में पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम संस्कार कर दिया।

Teekam saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned