पंचायतीराज चुनाव में शराब बांटने की आशंका, शराब की 120 पेटी बरामद, दो गिरफ्तार

पंचायतीराज चुनावों के मद्देनजर पुलिस की कार्रवाई, 55 हजार की नकदी एवं दो वाहन जब्त

चौमूं. पंचायतीराज आम चुनावों के दौरान बढ़ाई गई पुलिस गश्त के दौरान एक कार व लोडिंग वाहन में अवैध रूप से परिवहन करके ले जाई जा रही हरियाणा निर्मित देशी शराब की 120 पेटियां बरामद की है। मामले में दोनों वाहनों को जब्त करके दोनों चालकों को भी गिरफ्तार कर लिया है। माना जा रहा है कि पंचायतीराज चुनाव में शराब बांटने के लिए ले जाई जा रही थी। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।
थानाधिकारी हेमराज सिंह गुर्जर ने बताया कि पुलिस उपायुक्त जयपुर पश्चिम कावेन्द्र सिंह सागर के निर्देश पर सीआईयू टीम आयुक्तालय जयपुर के उप निरीक्षक महेन्द्र सिहं की सूचना पर एएसआई बाबूलाल, बलदेव सिंह सहित गठित टीम ने शहर में वीर हनुमान मार्ग पहुंचकर एक कार व एक लोडिंग वाहन को रोककर उनकी तलाशी ली तो वाहनों में अवैध रूप से हरियाणा ब्राण्ड देशी शराब की 120 पेटियां और 55 हजार रुपए की नकदी बरामद हुई। पुलिस ने मामले में श्रीरामपुरी कॉलोनी (झोटवाड़ा) जयपुर हाल निवासी अंजनी विहार हाथी टिब्बा बी संस्कृत स्कूल के पास वीर हनुमानजी का रास्ता चौमूं में रहने वाले रामलाल उर्फ रामू मीणा और गांवली दयाल की नांगल पाटन सीकर निवासी बबलू कु मार मीणा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने दोनों के खिलाफ एक्साइज एक्ट की धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ कर है, जिससे ओर कई राज खुलने की संभावना है।

प्रत्येक पेटी में 48 पव्वे


पुलिस ने दोनों आरोपियों से बरामद की गई 120 पेटियों में कुल ५७६० पव्वे रखे हुए थे। प्रत्येक पेटी में हरियाणा ब्रॉड की देशी शराब के 48 पव्वे रखे हुए थे। जिसकी बाजार में 2.30 लाख रुपए की कीमत आंकी जा रही है।

चुनाव में तो नहीं बांटनी थी


चूंकि हरियाणा निर्मित देशी शराब को अवैध रूप से ले जा रहे दोनों आरोपी जयपुर और सीकर जिले के हैं। इसलिए माना जा रहा है कि शराब की खेप भी इन दोनों जिलों में खपाई जाने वाली होगी। इसका बड़ा कारण ये माना जा रहा है कि दोनों जिलों में प्रथम चरण के ग्राम पंचायतों के चुनाव 17 जनवरी को होने हैं और दूसरे चरण के 22 जनवरी को। चुनावों में शराब बांटने की आशंका भी मानी जा रही है, लेकिन सच्चाई तो पुलिस की जांच के बाद ही सामने आएगी कि आखिर शराब किसलिए, किसको और किस स्थान पर पहुंचाई जाने वाली थी।

Dinesh Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned