रात को पत्नी से किया झगड़ा और सुबह फांसी पर लटका मिला स्कूल संचालक

सामोद थाना क्षेत्र के चौमूं रोड स्थित नीमड़ी में शुक्रवार सुबह 9 बजे एक निजी स्कूल संचालक का शव कमरे में लगे पंखे पर रस्सी से लटका मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी। एएसपी ज्ञानचंद यादव व थानाधिकारी हरबेंद्रसिंह ने एफएसएल को बुलाया व मकान का दरवाजा तोड़कर शव नीचे उतार कर निजी वाहन से चौमूंं सीएचसी भिजवाया।

By: Ashish Sikarwar

Updated: 26 Jun 2020, 10:51 PM IST

जयपुर. सामोद थाना क्षेत्र के चौमूं रोड स्थित नीमड़ी में शुक्रवार सुबह 9 बजे एक निजी स्कूल संचालक का शव कमरे में लगे पंखे पर रस्सी से लटका मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी। एएसपी ज्ञानचंद यादव व थानाधिकारी हरबेंद्रसिंह ने एफएसएल को बुलाया व मकान का दरवाजा तोड़कर शव नीचे उतार कर निजी वाहन से चौमूंं सीएचसी भिजवाया। वहां से पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।
जानकारी अनुसार थाना क्षेत्र के नीमड़ी में प्रकाशचंद (47) पुत्र रामलाल सैनी काफी समय से निजी स्कूल चलाता है। वह स्कूल में ही परिवार सहित निवास करता था। सूत्रों के अनुसार गुरुवार शाम जब वह घर आया तो किसी बात को लेकर पत्नी से झगड़ा हो गया। झगड़ा इतना बढ़ा कि परिजन व पड़ोसियों को बीच-बचाव करना पड़ा। इस दौरान उसकी पत्नी व दोनों बेटे प्रकाशचंद के पिता के मकान में जाकर सो गए। प्रकाश भी स्कूल में बने निवास में अंदर से कुंडी लगाकर सो गया। शुक्रवार सुबह जब काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला तो परिजनों को चिंता हुई। परिजनों ने प्रकाशचंद को फोन किया जो बंद था। इसके बाद दरवाजे खटखटाए, लेकिन नहीं खुले। इस पर बेटे ने मकान के पीछे बनी खिड़की से देखा तो प्रकाश पंखे से लटका था। परिजनों ने सूचना सामोद पुलिस को दी। पुलिस ने मकान का दरवाजा तोड़ शव नीचे उतारा एफएसएल टीम ने भी साक्ष्य जुटाए।

आर्थिक तंगी व कलह के चलते लगाया फंदा
जानकारी के अनुसार प्रकाश पर काफी कर्जा हो गया था। इसी के चलते उसका पत्नी से आए दिन विवाद होता था। गुरुवार शाम को भी जब वह बाजार से घर आया तो मिठाई का डिब्बा साथ लाया था। घर पहुंचे ही पत्नी के विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि मृतक के दूसरे भाइयों व पिता को बीच-बचाव करना पड़ा।

हाथ-पैर बंधे थे और चेहरे पर लगी थी प्लास्टिक थैली
थानाधिकारी हरबेंद्र सिंह ने बताया कि जब मकान का दरवाजा तोड़कर अंदर गए तो प्रकाशचंद कमरे में छत के पंखे से लटका मिला। उसके दोनों हाथ पीछे की ओर बंधे थे। साथ ही चेहरे पर प्लास्टिक की थैली लगी थी। हाथों को पीछे की ओर इस तरीके से स्कार्फ से बांधा गया कि स्कार्फ का दूसरा सिरा पंखे से बंधा हुआ था। पास ही पलंग पर स्टूल गिरा पड़ा था। पुलिस को मृतक के पास से एक कागज लिखा हुआ मिला। जिसमें पत्नी व बच्चों को अपने तरीके से जीवन जीने के लिए लिखा हुआ था। मगर उससे आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हुआ।
थानाधिकारी हरबेंद्र सिंह के अनुसार मामला प्रथम दृष्टया आत्महत्या का है। मृतक के पास के कागज मिला है जिसमें बच्चों को अपने हिसाब से जीवन जीने के लिए लिखा हुआ था। मगर उसमें आत्महत्या का कारण नहीं मिला। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned