सराहनीय पहल : खुद थामी टोकरी-कुदाल और बना डाला रनिंग ट्रैक

सराहनीय पहल : खुद थामी टोकरी-कुदाल और बना डाला रनिंग ट्रैक
बिलान्दरपुर में ट्रैक व पुशअप स्टैण्ड बनाने वाले युवा।

Narottam Sharma | Updated: 12 Oct 2019, 06:13:04 PM (IST) Bagru, Jaipur, Rajasthan, India

Jaipur Innovation News :- युवाओं ने अपने खर्च से खुद बनाया रनिंग ट्रैक व पुशअप स्टैण्ड। जनप्रतिनिधियों-पंचायत प्रशासन को अवगत कराने के बाद भी नहीं हो रही रही थी कार्रवाई। बिलांदरपुर के युवाओं ने स्वयं के खर्चे पर व श्रमदान कर किया निर्माण। दूसरों को भी इस अनूठी पहल Commendable initiative से प्रेरणा लेनी चहिए।

जयपुर. कहते हैं जहां चाह होती है वहां अपने आप राह मिल ही जाती है। कुछ ऐसा ही देखने को मिला जयपुर जिले के बिलान्दरपुर कस्बे में। यहां युवाओं को एनडीए, बीएसएफ, सीआरपीएफ, पुलिस NDA, BSF, CRPF, Police सहित राष्ट्र रक्षा से जुड़ी अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए ट्रैक नहीं होने से परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। चाह कर भी युवा ऐसी चुनौतीपूर्ण परीक्षाओं के लिए फिजिकल की तैयारी नहीं कर पा रहे थे। ट्रैक की सुविधा नहीं होने की टीस उनमें कई सालों से थी। गांव के युवाओं ने जनप्रतिनिधियों, प्रशासन को इस बारे में अवगत कराया तो भी समस्या का समाधान नहीं हुआ तो उन्होंने स्वयं ही कुछ कर गुजरने की ठानी और स्वयं के स्तर पर चंदा एकत्र कर ट्रैक का निर्माण कर दिया।

प्रशासन को दिया संदेश
जानकारी के अनुसार गांव के कुछ युवाओं ने श्रमदान कर 100 मीटर रनिंग ट्रैक व पुशअप स्टैण्ड का निर्माण कर शासन व प्रशासन को यह संदेश दिया है कि उन्हें किसी के सहयोग की जरूरत नही है। युवाओं की पहल सराहनीय है। यदि इसी प्रकार सभी लोग ठान लें तो अनेक समस्याओं का समधान हो सकेगा।

यह थे हाल
गांव व ढाणी के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं में फिजिकल के लिए मुख्य सड़क मार्ग पर दौड़ लगानी पड़ती थी। इससे हादसों का भय बना रहता था। उन्होंने ग्राम पंचायत से लेकर जनप्रतिनिधियों व प्रशासन को आर्मी रनिंग ट्रैक बनाने की गुहार लगाई। चुनावी मौसम में निर्माण को लेकर वादे जरूर हुए, लेकिन बाद में वे सब हवा में गुम हो गए। इससे आहत होकर युवाओं ने खुद चंदा इकट्टा कर आर्मी रनिंग ट्रैक व पुशअप स्टैण्ड बनवाया। इस दौरान युवाओं ने कुदाल, फावड़े उठाकर मिट्टी का समतलीकरण कर आर्मी ट्रैक बनाया।

ये थे शामिल
युवा गौतम मीणा, अर्जुन कुमावत, दीपक, धर्मेन्द्र मीणा, नरेन्द्र, पंकज, उमेश समेत दर्जनों युवाओं ने सामुहिक सहयोग कर इसका निर्माण किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned