Crime: जोबनेर में गैंगस्टर लगाता था देवा की अदालत

Crime: जोबनेर में गैंगस्टर लगाता था देवा की अदालत
Crime: जोबनेर में गैंगस्टर लगाता था देवा की अदालत

Teekam Saini | Updated: 21 Sep 2019, 11:38:07 PM (IST) Bagru, Jaipur, Rajasthan, India

Seven members including Deva gang leader arrested...देवा गैंग के सरगना सहित सात सदस्य गिरफ्तार, हथियार भी बरामद

जोबनेर (Crime). अभिनेता सन्नी देओल की फिल्म 'जिद्दी' की तरह यहां जोबनेर में भी एक गैंगस्टर अपना प्रभुत्व स्थापित करने के लिए 'देवा की अदालत' लगाता था। वह लोगों की मदद करने का दिखावा करता और चोरी, लूट, हत्या, नकबजनी, फिरौती जैसे रंगीन अपराधों (Crime) को अंजाम देकर अपराध की दुकान में अपनी पहचान बनाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन पुलिस ने शनिवार को विभिन्न संगीन अपराधों में शामिल गैंग (Deva gang) के सरगना देवाराम रेवाड उर्फ देवा रेवाड़ समेत सात सदस्यों को गिरफ्तार (Arrested) कर उनसे हथियार बरामद (Arms recovered) कर लिए।
उल्लेखनीय है कि क्षेत्र में पिछले एक माह में अपराधों में अचानक वृद्धि (Increase crime rate) हुई। जिनमें कुख्यात अपराधी व शार्प शूटर जीतू बना से मुठभेड़, हनीटैप मामला, कछुआ बेच कर ठगने वाला गिरोह, कालख में पैट्रोल पम्प पर लूट का प्रयास, कॉलेज चौराहे के आगे बाइक सवार से सत्तर हजार की लूट व चोरी की अन्य वारदातें (Crime) शामिल है। जिसके चलते स्पेशल टीम ने इस पर गहन अनुसंधान किया। जिसके चलते पुलिस ने विभिन्न संगीन वारदातों में शामिल व उनको अंजाम देने वाली देवा गैंग (Deva gang) के सरगना देवाराम उर्फ देवा रैवाड निवासी खतवाडी, राजू उर्फ राजेन्द्र पुत्र रामकरण जाट निवासी सूंडों की ढाणी, नरसी पुत्र गिरधारी जाट सुरसिंहपुरा थाना फुलेरा, साहिल चौधरी पुत्र बालकिशन जाट निवासी लाहराना थाना नावां, राहुल चौधरी पुत्र बाबूलाल निवासी खतवाडी थाना फुलेरा, कैलाश मीणा पुत्र हरिराम निवासी लूणवां थाना नावां व जयप्रकाश जाट पुत्र मेवाराम निवासी खतवाड़ी को गिरफ्तार (Arrested) कर किया।
यह हथियार बरामद
जोबनेर व फुलेरा पुलिस ने गैंग के सदस्यों राजू उर्फ राजेन्द्र जाट से एक लोडेड देशी कट्टा, नरसी जाट से दो जिंदा कारतूस 8 एमएम सहित अन्य हथियार बरामद (Arms recovered) किए है। एडिशनल एसपी स्वामी ने बताया कि गिरोह के सदस्यों से एक बोलेरो पिकअप भी जब्त की गई है, जो करधनी क्षेत्र से चोरी की गई थी।
इन अपराधों को दिया अंजाम
देवा गैंग (Deva gang) के सदस्य चोरी, हथियारों की तस्करी, गवाहों को धमकाने, रजिंशवश कई महंगे वाहन जलाने, इनामी व कुख्यात अपराधियों को शरण प्रदान करने, वाहन चोरी, नकबजनीे, रंगदारी व फिरौती, सोशल मीडिया पर विभिन्न प्रकार के हथियारों की फोटो अपलोड करने जैसे अपराधों (Crime) में शामिल है।
लगाता था देवा की अदालत
पकड़ा गए गिरोह का सरगना देवा रैवाड़ अपनी गैंग के सदस्यों के साथ मिलकर लोगों में अपना प्रभुत्व स्थापित करने के लिए देवा की अदालत भी लगाता था। वह हाई प्रोफाइल लाइफ (High profile life) जीता था। पुलिस ने बताया कि उसके 27 जन्मदिन पर 27 डीजे बजाए गए व 27 सौ लोगों को खाना खिलाया गया। वह लोगों में खौफ पैदा कर विरोधी गैंग को समाप्त करना चाहता था।
संगीन अपराध की फिराक में थे आरोपी
गिरफ्तार (Arrested) साहिल, राहुल व गैंग के अन्य सदस्यों ने बोलेरो पिकअप चोरी की थी। जिसे बेचने के बाद हथियार खरीद कर एक व्यक्ति की हत्या करने का इरादा था। गैंग (Deva gang) द्वारा सांभर के एक ज्वैलर्स को भी लूटने के लिए चिन्हित किया हुआ था। इसके अलावा गैंग के अन्य अन्तर्राज्यीय अपराधियों (Crime) से भी संबंध थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned