ड्राइवर ने बांध के पानी में उतार दिया ट्रक फिर क्या हुआ जानें

कानोता बांध पर लगातार पानी की आवक के चलते सुमेल से दिल्ली बायपास पर निकल रही सड़क पर करीब पांच फीट पानी जमा हो गया। रास्ते पर वाहनों के परिवहन को ग्राम पंचायत द्वारा मिट्टी की दीवार बनाकर व पुलिस ने बैरिकेड्स लगाकर अवरुद्ध कर रखा है लेकिन बावजूद कई लोग रास्ते से अनजान लोग मिट्टी की दीवार व बैरिकेड्स को फलांगकर जान जोखिम में डालकर रास्ता पार करने से नहीं चूकते हैं।

By: Ashish Sikarwar

Published: 17 Sep 2020, 12:50 AM IST

जयपुर/कानोता. कानोता बांध पर लगातार पानी की आवक के चलते सुमेल से दिल्ली बायपास पर निकल रही सड़क पर करीब पांच फीट पानी जमा हो गया। रास्ते पर वाहनों के परिवहन को ग्राम पंचायत द्वारा मिट्टी की दीवार बनाकर व पुलिस ने बैरिकेड्स लगाकर अवरुद्ध कर रखा है लेकिन बावजूद कई लोग रास्ते से अनजान लोग मिट्टी की दीवार व बैरिकेड्स को फलांगकर जान जोखिम में डालकर रास्ता पार करने से नहीं चूकते हैं।
पटवारी शुभम शर्मा ने बताया कि सुमेल से दिल्ली रोड के लिए बांध के पास से निकल रही सड़क पर पानी में एक बोलेरा बह गई थी। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई थी। सड़क पर 4 से 5 फीट पानी जमा होने के कारण रास्ते को अवरुद्ध कर रखा था बावजूद मंगलवार रात 2 बजे दिल्ली रोड की तरफ से आ रहे एक ट्रक चालक ने ट्रक उतार दिया। ट्रक जैसे-जैसे बढ़ता गया उतना पानी में डूब गया और आधे रास्ते में पहुंचने के बाद बंद हो गया। ट्रक बंद होने से उसमें सवार चालक सहित अन्य चार लोग घबरा गए। उसके बाद उन्होंने कंट्रोल रूम पर फोन किया तो ब्रह्मपुरी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने स्थानीय सेक्रेटरी व पटवारी ने रैस्क्यू टीम को फोन किया। मौके पर पहुंची टीम ने देररात रैस्क्यू कर ट्रक छोड़कर पांचों लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला।

 

पहले हो चुका हादसा, तीन लोगों की हो चुकी मौत
ग्राम सचिव अवदेश पांडे ने बताया कि 14 अगस्त को हुई मूसलाधार बारिश से कानोता बांध में जबरदस्त पानी की आवक हुई जिसके चलते जयपुर जलमहल का पानी जिस रास्ते से बांध तक पहुंचता है उसके बीच आगरा रोड से दिल्ली रोड को जोडऩे वाली संपर्क सड़क निकल रही है उस रास्ते में 5 से 6 फीट पानी मे एक बोलेरो डूब गई थी। इससे तीन लोगों की मौत हो गई थी। उसके बाद रास्ते मे मिट्टी डलवाकर व बैरिकेड्स लगाकर रास्ता अवरुद्ध किया था।

 

राजमार्ग पर बिना रोकटोक सरपट दौड़ रहे ओवरलोड वाहन
कानोता. जयपुर-आगरा राजमार्ग पर ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की गैरमौजूदगी में ओवरलोड वाहन बेलगाम दौड़ रहे हैं। पत्थर व ईंटों से भरे वाहनो के साथ छोटे चारपहिया चालक भी क्षमता से अधिक माल भरकर सरपट दौड़ रहे हैं। साथ ही ऊपर सवारी भी बैठाकर जान जोखिम में डाल रहे हैं। पिछले कई दिनों से नायला तिराहे पर यातायात पुलिसकर्मी तैनात नहीं होने से ओवर वाहनों का धड़ल्ले से परिवहन होगा। कानोता थाना पुलिसकर्मी भी इन दिनों कोरोनाकाल के चलते इन पर कार्रवाई करने की ओर ध्यान नहीं दे रहे। इन वाहनों के चलने से राजमार्ग पर बड़ा हादसा होने का खतरा मंडरा रहा है। यातायात प्रसाशन द्वारा अभियान चलाकर इनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

Ashish Sikarwar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned