शातिर ठग ने थानेदार को भी नहीं छोड़ा

- पांच से अधिक राज्यों में दिया वारदात को अंजाम
- 500 लोगों से ठगे 15 लाख रुपए

By: Ramakant dadhich

Published: 08 Jan 2021, 11:50 PM IST

जयपुर. जिले के प्रागपुरा पुलिस ने शातिर अन्तरराज्यीय साइबर ठग गिरफ्तार किया है। आरेापी राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों के करीब 500 से अधिक लोगों से 15 लाख की ठगी कर चुका है। आरोपी से डेढ़ लाख रुपए की मोटरबाइक बरामद कर इसके कब्जे से 1 लैपटॉप, 8 मोबाइल, 25 मोबाइल सिम, 10 एटीएम कार्ड व 3 लाख 26 हजार रुपए की नकद जब्त किए हैं। वहीं फोन में मिले 1 हजार हाई प्रोफाइल के लोगो की सूची जब्त की है। जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सामोद थाना प्रभारी हरबेन्द्र सिंह ने 3 जनवरी को रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उनके नाम व फोटो का उपयोग कर ठग ने सामोद थाने के कांस्टेबल से 5000 रुपए ट्रांसफर करने को कहा। वहीं साइबर ठग ने अन्य लोगों से भी रुपए ऐंठने की कोशिश की। जिस पर कई लोगों ने ट्रांसफर भी कर दिए। थाने में मामला दर्ज होने के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोटपूतली रामस्वरूप कस्वां एवं कोटपूतली वृताधिकारी दिनेश कुमार यादव के निर्देश पर प्रागपुरा थानाधिकारी बृजेश ज्योति उपाध्यय के नेतृत्व में थाना स्तर पर टीम गठित आरोपी की तलाश शुरू की गई।


ऐसे आया पकड़ में
प्रागपुरा थाना प्रभारी बृजेश ज्योति ने बताया की संदिग्ध मोबाइल नंबर,पेटीएम व बैंक एकाउंट्स की डिटेल खंगाली गई। लेकिन आरोपी शातिर होने के कारण मोबाइल नंबर व बैंक अकाउंट दूसरे राज्यों के व्यक्तियों के नाम से दस्तावेज का उपयोग करता था व एक बार उपयोग करके बदल देता था। आरोपी दूसरे राज्यों की सिम का उपयोग करता था, जिससे वास्तविक व्यक्ति का पता नहीं लग रहा था। आखिर साइबर सेल को एक सुराग लगा जिससे पुलिस ने झुंझुनू, सीकर, चुरू आदि स्थानों पर दबिश देकर 2 जनवरी को संदीप चौधरी (25)पुत्र शिवचंदराम जाट निवासी खींवासर थाना गुढा गौडजी जिला झुंझुनूं को गुढ़ा गौडज़ी बस स्टैंड से दबोच लिया। आरोपी के कब्जे से मिले मोबाइल की जांच की गई तो पता चला कि आरोपी करीब 500 से अधिक लोगों से ठगी कर चुका है। जिसके पास मोबाइल में 1 हजार वीआईपी प्रोफाइल, जीमेल अकाउंट,100 पेन कार्ड, 100 आधार कार्ड मिले जिनका उपयोग वह लोगों से ठगी करने के लिए करता था। उसके पास मिले लेपटॉप से उसके अंतरराज्यीय ठगों से संबंध का खुलासा हुआ। आरोपी ठगी के प्रकरण मे गुरुग्राम हरियाणा में 2018 मे पकड़ा जा चुका है व प्रागपुरा थाना में भी अभियुक्त के खिलाफ प्रकरण दर्ज है। आरोपी ने ठगी करना स्वीकार किया है। वहीं अभियुक्त से गहनता से अनुसंधान जारी है।


आरेापी से ये बरामद
पुलिस ने बताया की ठगी करने वाले अभियुक्त के पास मोबाइल में 1 हजार वी आईपी प्रोफाइल, जी मेल अकाउंट,100 पेन कार्ड,100 आधार कार्ड, एक लेपटॉप, 8 मोबाइल, 25 मोबाइल सिम, 10 एटीएम,लोगो से ठगे हुए 326000 हजार रुपए व ठगी के रुपयों से खरीदी डेढ़ लाख की बाइक जप्त की गई।

Ramakant dadhich Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned