Corona effect: ऑनलाइन सुनवाई में दो याचिकाओं पर मिली जमानत

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग व वाट्सएप के माध्यम से जरूरी मामलों की सुनवाई

By: Teekam saini

Published: 18 Apr 2020, 05:40 PM IST

जयपुर. कोरोना के चलते जहां न्यायालयों में भी ऑनलाइन कार्य हो रहा है, वहीं अधिवक्ता भी ऑनलाइन बहस कर केस लड़ रहे हैं। इसी क्रम में सांभर निवासी अधिवक्ता दिनेश पारीक ने ऑनलाइन बहस कर गुरुवार को राजस्थान उच्च न्यायालय से दो मामलों में जमानत कराई। पारीक ने बताया उच्च न्यायालय में लॉकडाउन के चलते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग व वाट्सएप के माध्यम से जरूरी मामलों की सुनवाई हो रही है। इस सुविधा का लाभ उठाते हुए अधिवक्ता पारीक ने गुरुवार को न्यायाधीश इंद्रजीत सिंह की बैंच में सूचीबद्ध जमानत याचिका पर वाट्सअप के माध्यम से तथा न्यायाधीश एसपी शर्मा की बैंच में सूचीबद्ध जमानत याचिका जिप्सीमीट एप के माध्यम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा घर सांभरलेक से ही बहस की और न्यायाधीश ने बहस सुनने के बाद जमानत के आवेदन स्वीकार कर लिए और अभियुक्तों को जमानत पर छोड़े जाने के आदेश दिए।
किस प्रकार होती है सुनवाई
अधिवक्ता पारीक ने बताया जब याचिका उच्च न्यायालय में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध हो जाती है तो जिप्सी एप का लिंक अधिवक्ता के मोबाइल पर भेजता है। इससे अधिवक्ता घर पर रहकर ही न्यायालय पोशाक पहनकर लिंक पर क्लिक करता है तो संबंधित न्यायालय से जुड़ जाता है और जब उसके मामले की सुनवाई का नंबर आता है तो अधिवक्ता व न्यायाधीश वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़ जाते हैं। अधिवक्ता बहस वैसे ही करता है जैसे वह न्यायालय में करता है।

Teekam saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned