सऊदी अरब में हुई हत्या,14 माह बाद वतन लौटा शव, मामा बना कातिल

सऊदी अरब में हुई हत्या,14 माह बाद वतन लौटा शव, मामा बना कातिल

Ruchi Sharma | Publish: Oct, 13 2018 02:17:08 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

सऊदी अरब में हुई हत्या,14 माह बाद वतन लौटा शव, मामा बना कातिल

बहराइच. जरवल थाना क्षेत्र के उत्तरी कटरा निवासी एक युवक की बीते सवा साल पहले सऊदी अरब के दम्माम शहर में चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी। जिसका शव सवा साल बाद शुक्रवार को सऊदी अरब से उसके पैतृक आवास पर पहुंचने पर गांव में कोहराम मच गया। जरवल नगर पंचायत के मोहल्ला कटरा उत्तरी निवासी आमिर (24) पुत्र जलालुद्दीन दो साल पूर्व नौकरी करने सऊदी अरब के शहर दम्माम गया हुआ था। दम्माम शहर में स्थित एक होटल पर मृतक आमिर वेटर का काम कर रहा था। जहां आमिर के चचेरे मामा आबिद होटल पर मैनेजर थे। आमिर के पढ़े लिखे और अच्छी काबिलियत को देखते हुए होटल मालिक ने आमिर को होटल का मैनेजर बना दिया और उसके चचेरे मामा आबिद का डिमोशन कर वेटर बना दिया।


तभी से आमिर का चचेरा मामा आबिद अपने भांजे की तरक्की को देख जलन करने लगा। फिर क्या था आरोपी मामा ने अपने भांजे को रास्ते से हटाने के लिये हत्या की साजिश में जुट गया। जानकारी के मुताबिक मामा-भांजे दोनों एक साथ किराए के मकान में रहते थे। 30 अगस्त 2017 की रात सोते समय चचेरे मामा ने धारदार चाकू से गोदकर अपने भांजे आमिर की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी और फरार हो गया।

सऊदी अरब की पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर चचेरे मामा मोहम्मद आबिद पुत्र हिसाम निवासी कोतवाली कर्नलगंज जिला गोंडा की तलाश शुरू कर दी। चार माह बाद सऊदी पुलिस ने हत्यारोपी चचेरे मामा मोहम्मद आबिद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। परिवारीजनों का आरोप है कि भारत सरकार के विदेश मंत्रालय की लापरवाही से मृत आमिर का शव सवा साल तक भारत नहीं आ पाया लेकिन सऊदी अरब की सरकार ने भारत सरकार के विदेश मंत्रालय से संपर्क कर मृतक के शव को भारत भेज दिया। जहां से शव को मृतक के पैतृक घर जरवल के मोहल्ला कटरा उत्तरी लाया गया। धार्मिक रीति-रिवाज के बाद कब्रिस्तान में मृतक को सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया।

Ad Block is Banned