DIOS ने दर्ज कराई 6 अध्यापकों पर एफआईआर,10 दिन से तहरीर को दाबे बैठे थे थानेदार

DIOS ने दर्ज कराई 6 अध्यापकों पर एफआईआर,10 दिन से तहरीर को दाबे बैठे थे थानेदार

Ruchi Sharma | Publish: Sep, 11 2018 04:38:49 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

DIOS ने दर्ज कराई 6 अध्यापकों पर एफआईआर,10 दिन से तहरीर को दाबे बैठे थे थानेदार

बहराइच. जिले में एक बड़ा चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां जिला विद्यालय निरीक्षक (DIOS) की तहरीर पर थाना सुजौली क्षेत्र में संचालित शरदा सहायक परियोजना इंटर कालेज के कार्यवाहक प्राचार्य समेत विद्यालय प्रबंधन से जुड़े 6 कर्मचारियों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। आपको बता दें कि बहराइच जिले के DIOS राजेन्द्र कुमार पांडेय ने बीते 1 सितम्बर को थाने पर FIR दर्ज करने की तहरीर दिया था। जिसमें DIOS ने आरोपियों के खिलाफ साक्ष्यों का पुलिंदा भी थानेदार को सौंपा था । उसके बावजूद DIOS की तहरीर थाने पर बीते 10 दिनों से धूल फांक रही थी। इस मामले की भनक लगते ही जब SP सभाराज ने सुजौली के थानेदार अफसर परवेज को कड़ी फटकार लगाई तो चन्द मिनटों में थाने पर FIR दर्ज हो गयी।

ये था मामला..

थाना सुजौली अंतर्गत शारदा सहायक परियोजना इंटर कॉलेज के 06 अध्यापकों पर छात्रों से अवैध वसूली का मामला प्रकाश में आया था जिसके संबंध में जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र कुमार पांडेय द्वारा अवैध वसूली का मामला सामने आने के बाद DIOS बहराइच ने थाना सुजौली में कालेज के कार्यवाहक प्राचार्य समेत 6 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज करने की तहरीर दी थी।

DIOS की जांच में पकड़ा गया इतने की अवैध वसूली का मामला

जिला विद्यालय निरीक्षक की जांच में कक्षा 09 की छात्र छात्राओं से 900,कक्षा 10 की 1000,व इसी तरह कक्षा 11 से क्रमशः 1100 व कक्षा 12 के छात्र छात्राओं से 1200 की अवैध वसूली जुलाई माह में बतौर प्रवेश के समय लिया गया था। इसके बाद कक्षा 09-10 के विद्यार्थियों से 125 रुपये तथा कक्षा 11-12 के विद्यार्थियों से 175 रुपये प्रतिमाह अलग से वसूली की जा रही थी।

इस मामले में थाना सुजौली में उपरोक्त विद्यालय के कार्यवाहक प्राचार्य (संरक्षक) सहित 06 पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।

पंजीकृत अभियोग संख्या:

93/18 धारा 419,420,406 भादवी व 7(ग )तथा 7(घ ) उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा अधिनियम 1921 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है।

Ad Block is Banned