राप्ती नदी ने पार किया खतरे का निशान, लगातार बरसात से दिकौली में धंसी फोरलेन, देखें वीडियो

राप्ती नदी ने पार किया खतरे का निशान, लगातार बरसात से दिकौली में धंसी फोरलेन, देखें वीडियो

Hariom Dwivedi | Publish: Jul, 11 2019 07:32:48 PM (IST) Bahraich, Bahraich, Uttar Pradesh, India

- श्रावास्ती जिले में कई इलाकों में सड़के बनी सैलाब

श्रावस्ती. नेपाल के पहाड़ों सहित जिले में विगत पांच दिनों से रुक-रुक कर मूसलाधार बरसात हो रही है। इससे राप्ती नदी सहित पहाड़ी नाले उफान पर हैं। जमुनहा के राप्ती बैराज पर नदी की लहरों ने खतरे के निशान को पार कर लिया है, वहीं पहाड़ी नालों में आई बाढ़ के कारण भिनगा लक्ष्मनपुर मार्ग सैलाब बन गया है। सोनवा थाना क्षेत्र के दिकौली स्थित नहर के पास फोरलेन धंस जाने से एक तरफ का आवागमन पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। नदी के बढ़े जलस्तर के कारण राप्ती नदी की कछार में बसे गांव में बाढ़ का खतरा उत्पन्न हो गया है। स्थिति का जायजा लेने के लिए डीएम सहित अन्य अधिकारी राप्ती बैराज पहुंच गए हैं।

श्रावस्ती जिले में सोमवार से हो रही मूसलाधार बरसात गुरुवार को भी रुक-रुक कर जारी रही। नेपाल के पहाड़ों पर हो रही इस बरसात के कारण राप्ती नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। गुरुवार को जमुनहा के राप्ती बैराज पर नदी अपने खतरे के निशान 127.70 मीटर को पार कर 127.75 मीटर पहुंच गई। इससे नदी के कछार में बसे जमुनहा, भिनगा व इकौना तहसील क्षेत्र के सैकड़ो गांवों में बाढ़ का खतरा उत्पन्न हो गया है। वहीं तेज बरसात के कारण सिरसिया क्षेत्र के पहाड़ी नाले भी उफान पर हैं। भिनगा जंगल के मध्य बहने वाले पहाड़ी केन नाले का जलस्तर बढ़ जाने के कारण भिनगा लक्ष्मनपुर मार्ग सैलाब बन गया है। जहां लोग जान जोखिम में डाल कर आ जा रहे हैं। वहीं तेज बरसात के कारण फोरलेन सहित कई अन्य मार्गों की पटरियां धंस गई हैं जिससे मार्ग पर वाहनों के पलटने का खतरा उत्पन्न हो गया है। वहीं सोनवा क्षेत्र के दिकौली स्थित मुख्य सरयू नहर के पास बहराइच से भिनगा आने वाला फोरलेन पूरी तरह धंस गया है। ऐसे में वाहनों को दूसरी पटरी से गुजारा जा रहा है। विगत तीन दिनों से धंस रहे इस मार्ग की सूचना के बाद भी प्रशासन द्वारा इसे बचाने का कोई प्रयास नही किया गया है।

 

डीएम ने लिया जायजा
राप्ती के बढ़े जलस्तर की सूचना के बाद डीएम सहित अन्य अधिकारियों ने राप्ती बैराज पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। साथ ही मातहत अधिकारियो को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया। वहीं मौसम विभाग द्वारा शनिवार तक मूसलाधार बरसात होने के जारी एलर्ट के बाद डीएम आवास के बेसिक फोन नंबर को कंट्रोल रूम का नंबर बनाया गुआ है जिस पर बाढ़ व बरसात से संबंधित सूचना दी जा सकेगी। साथ ही डीएम ने सभी राजस्व, पुलिस व पंचायती राज विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को एलर्ट रहकर बाढ़ की स्थिति पर पैनी नजर रखने का निर्देश दिया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned