दुश्मनों को फंसाने के लिए ग्राम प्रधान ने रची खुद के अपहरण साजिश

दुश्मनों को फंसाने के लिए ग्राम प्रधान ने रची खुद के अपहरण साजिश
Bahraich Crime

Shatrudhan Gupta | Updated: 12 Dec 2017, 11:11:44 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

मामले की शिकायत सूबे के मुख्यमंत्री एवं जिलाधिकारी सहित कई अफसरों से लिखित तौर पर की गई थी।

बहराइच. उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में एक बड़ा संगीन मामला सामने आया है, जिसमें चुनावी रंजिस की आग में बुरी तरह उबल रहे एक ग्राम प्रधान ने अपने दुश्मनों को फंसाने के लिए खुद के अपहरण का नाटक रच डाला। घटना का परिदृश्य थाना बौंडी इलाके से जुड़ा हुआ है, जहां के दिकौलिया गांव के रहने वाले ग्राम प्रधान राम मिलन भास्कर ने अपने सगे भाई बिहारी लाल से सांठ गांठ कर दुश्मनों को जेल भिजवाने के लिए खुद के अपहरण का स्वांग रच डाला। इस मामले में आरोपी ग्राम प्रधान के भाई बिहारी लाल ने कैसरगंज के पूर्व विधायक हसीब खां के दो बेटे जावेद अहमद व उजैर अहमद सहित दिकौलिया के ग्राम विकास अधिकारी गिरीश कुमार सहित नौ लोगों पर अपहरण का आरोप लगाते हुए थाना बौंडी में तहरीर दी थी।

साथ ही मामले की शिकायत सूबे के मुख्यमंत्री एवं जिलाधिकारी सहित कई अफसरों से लिखित तौर पर की गई थी। इस मामले में थाना बौंडी की पुलिस टीम में सक्रियता दिखाते हुए मामले की सुरागरसी के लिए सर्विलांस की मदद से जब मामले की बारीकी से रेकी की तो पूरे घटना के शक की सुई घूम-घूम कर आरोपी ग्राम प्रधान के भाई बिहारी लाल के ऊपर घूमती नजर आई। फिर क्या था काल डिटेल को सर्विलांस पर लगाते ही सारे मामले का राजफाश हो गया। पुलिस की पूछताछ के दौरान गिरफ्त में आये आरोपियों ने साफ तौर पर कुबूल किया की चुनावी रंजिस को लेकर आरोपियों को फंसाने के लिए ग्राम प्रधान राम मिलन भास्कर द्वारा स्वयं के अपहरण का स्वांग रचा गया था। थाना बौंडी की पुलिस टीम ने खुद के अपहरण की शाजिश रचने वाले ग्राम प्रधान व उसके भाई को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस अधीक्षक बहराइच जुगुल किशोर के नेतृत्व में जनपद मे लगातार चलाये जा रहे अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध अभियान के क्रम मे बीती सोमवार की रात थाना बौंडी के प्रभारी निरीक्षक विद्या सागर वर्मा ने मय उपनिरीक्षक व कांस्टेबल के साथ अपहरण की साजिश का पर्दाफाश करते हुए ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार ग्राम प्रधान राम मिलन ने पुलिस को बताया कि उसने गांव की चुनावी रंजिश के चलते कुछ लोगों के फंसाने के लिए स्वयं के अपहरण का नाटक करते हुए अपने भाई बिहारी के द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री, पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी बहराइच समेत कई अन्य उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र भेजा था। बौंडी पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सर्विलांस सेल के जरिए गायब ग्राम प्रधान राम मिलन को बौंडी थाना क्षेत्र के धोबिनपुरवा ग्राम मुरौव्वा से गिरफ्तार कर लिया। वहीं झूठी अपहरण की साजिश रचने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned