यहां पान की दुकानों पर खुलेआम बिक रहा है गांजा, पुलिस और आबकारी विभाग के आंखों लगी पट्टी

यहां पान की दुकानों पर खुलेआम बिक रहा है गांजा, पुलिस और आबकारी विभाग के आंखों लगी पट्टी

Neeraj Patel | Updated: 02 May 2019, 08:29:05 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बार्डर के जिले बहराइच में पुलिस और आबकारी विभाग की नाक के नीचे पान की दुकानों पर गांजा बेचने का गोरखधंधा धड़ल्ले से चल रहा है।

बहराइच. बार्डर के जिले बहराइच में पुलिस और आबकारी विभाग की नाक के नीचे पान की दुकानों पर गांजा बेचने का गोरखधंधा धड़ल्ले से चल रहा है। बहराइच में पान की दुकानों पर नशीले "गांजे" को "चिप्पड़" नाम से मोटे दामों पर बेचा जा रहा है। पान की दुकानों पर बिकने वाले चिप्पड़ नाम के गांजे का नशा स्मैक और कोकीन से भी कई गुना ज्यादा ख़तरनाक है। इस नशे की लत में स्कूल,कालेज के बच्चों से लेकर हर उम्र के लोग इस ख़तरनाक नशे की लत का शिकार हो कर अपनी जान से खिलवाड़ कर रहे हैं।

सूत्रों की मानें तो पान की गुमटियों में बिकने वाले "चिप्पड़" नशे के धंधेबाजों की पुलिस और आबकारी विभाग की तगड़ी सेटिंग है। जिनके संरक्षण में शहर से लेकर गांव गांव तक पान की दुकानों व परचून की दुकानों पर चिप्पड़/ गांजा बेधड़क खपाया जा रहा है।

पान की दुकानों पर ऐसे बिक रहा अवैध गांजा

बहराइच जिले में ऐसे तमाम जगहों पर अवैध गांजा / चिप्पड़ गांव-गांव से लेकर शहर के कोने कोने में खुलेआम बिक रहा हैं। जिले के राजी चौराहा पर पान की दुकान में खुलेआम गांजा बिक्री कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने बताया कि 35 से लेकर 310 तक की गांजा की पुडिया बिक्री की जाती है। ऐसे ही बहराइच के थाना देहात कोतवाली क्षेत्र मे दोनक्का तिराहा गोसाईगंज चौराहा पर धर्मेंद्र कुमार पुत्र प्रेम नारायण गोसाईगंज चौराहा पर पान की दुकान में खुलेआम गांजा बिक्री किया जाता है। थाना देहात कोतवाली क्षेत्र के बडनापुर में पुलिस चौकी से लगभग 1 किलोमीटर के अंदर खुलेआम गांजा बिक्री किया जाता है।

ऐसे ही बहराइच के कई अन्य जगहों पर भी गांजा बिक्री किया जाता है जैसे कि ऐरिया कॉलोनी, बडनापुर, गोसाईगंजा, महाराजगंज, राजीव चौराहा, इमामगंज, नानपारा, बहराइच घंटाघर, बहराइच डिगिहा चौराहा, बहराइच बसीरगंज, बहराइच बंजारी मोड़, मरौचा मोड़, फखरपुर, गजाधरपुर, कैसरगंज, जरवल कस्बा, ऐसे कई अन्य जगहों पर खुलेआम गांजा बिक्री किया जाता है। आपको बताते चले की ऐसे ही कई अन्य जगहों पर खुलेआम गांजा का कारोबार फैला रहे लोग प्रशासन मौन क्यों नहीं कर रहा कार्रवाई, गांजा तस्कर खुलेआम जिले के अंदर घूम रहे हैं व दुकान रखकर बेंच रहे है प्रशासन अपने आंखो पर पट्टी बांधे हुए बैठा है।

भांग की जगह खुलेआम गांजा बिक्री

आबकारी विभाग ने ठेकेदारों को भांग का ठेका दिया लेकिन भांग की जगह वह खुलेआम गांजा बिक्री करवा रहे हैं। प्रशासन की लापरवाही व ठेकेदारों की अपनी बचत के लिए जिले के सारे नौ युवकों को गांजा जैसे खतरनाक नशे का आदि बनाते नजर आ रहे शहर की दुर्दशा नशा में खराब होती नजर आ रही परिवार बिखर रहे फिर भी प्रशासन कुंभकर्णी नींद सो रहा है । अब देखना है कि खबर वायरल होने के बाद ज़िम्मेदार क्या राग अलापते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned