घायलों की जान बचाने के लिए इस एसपी ने निकलवाया अपने जिश्म का लहू

घायलों की जान बचाने के लिए इस एसपी ने निकलवाया अपने जिश्म का लहू
SP Bahraich Jugal Kishore Tiwari

Shatrudhan Gupta | Updated: 19 Nov 2017, 08:33:21 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

रक्तदान से तमाम तरह की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

बहराइच. हर पल आवाम की सुरक्षा का दम भरने वाली उत्तर प्रदेश पुलिस लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी निभाने के साथ-साथ सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन कर रही है। इसका ताजा उदाहरण इंडिया-नेपाल बॉर्डर से सटे जिले बहराइच में देखने को मिला, जहां खुद जिले के कप्तान घायलों की मदद के लिए अपना खून देने आगे आए।

एसपी ने ब्लड डोनेट कर किया शुभारंभ

दरअसल, यूपी पुलिस के काल कारनामे आए दिन चर्चा में रहते हैं। कभी रिश्वत लेने की खबर तो कभी किसी को बगैर किसी कारण के पिटने की खबर। लेकिन, यूपी पुलिस में कई ऐसे भी अफसर हैं, जो इन कारनामों से इतर जनता की रक्षा करने के साथ-साथ अपने सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन कर रहे हैं। इसमें बहराइच जिले के एसपी जुगुल किशोर भी पीछे नहीं हैं। जिले के पुलिस लाइन इलाके में आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान शिविर कैम्प में अपनी पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंचे पुलिस अधिक्षक जुगुल किशोर ने सबसे पहले अपना खून डोनेट लोगों का उत्साह वर्धन किया, जिसके बाद जनपद के पुलिस महकमें में तैनात महिला एवं पुरुष पुलिस कर्मियों के साथ ही जिले के तमाम लोगों ने रक्तदान किया।

डोनेट हुआ खून किसी संजीवनी से कम नहीं

इस मौके पर मीडिया से रूबरू होते हुए जिले के पुलिस कप्तान जुगुल किशोर तिवारी ने कहा की पुलिस की पहली जिम्मेदारी है, आवाम की सुरक्षा, जिसके लिये हमारी पूरी टीम हर पल तैयार है। ठंड के मौसम में घने कोहरे के चलते आए दिन सड़क हादसों में काफी इजाफा होता है। दुर्घटनाओं के दौरान घायल हुए लोगों की जान बचाने के लिये खून जैसी बुनियादी चीज की अत्यंत आवश्यकता होती है, जो सिर्फ इंसानी रगों में निर्मित होता है। इस दौरान उन लोगों की जिन्दगी के लिये ये डोनेट हुआ खून किसी संजीवनी से कम नहीं होता। उन्होंने कहा कि जिनके परिवार के लोग दूर दराज इलाकों में रहते हैं या फिर जिनका अता पता नहीं लग पाता उनके लिए डोनेट किया हुआ ब्लड काफी अहमियत रखता है। पुलिस कप्तान ने जानकारी देते हुए बताया की रक्तदान सबसे बड़ा दान है, जिससे किसी का जीवन बचाया जा सकता है। साथ ही रक्तदान से तमाम तरह की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

एक अलग रजिस्टर बनाने की बात एसपी ने कही

बहराइच जिले में स्वैच्छिक रक्तदान करने वाले सभी पुलिस कर्मियों के नाम कांटेक्ट नंबर सहित पूरे रिकॉर्ड वाला एक अलग रजिस्टर बनाने की बात एसपी बहराइच जुगुल किशोर ने कही है, ताकि भविष्य में जनपद या जनपद से बाहर कभी भी किसी व्यक्ति को खून की जरूरत पड़े तो यूपी पुलिस के इन सच्चे देश भक्तों की रगों में बहने वाला खून किसी की जान बचाने में काम आ सके।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned