252 मरीजों ने कोरोना को हराया, 125 नए मरीज मिले

एक्टिव मरीजों की संख्या हुई 1029, पंचायतों में रेड जोन घोषित कर आवागमन किया जा रहा है प्रतिबंधित

By: Bhaneshwar sakure

Published: 01 May 2021, 10:24 PM IST

बालाघाट. जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ्य होने का ग्राफ लगातार बढ़ते जा रहा है। जिसके चलते कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या भी कम होते जा रही है। हालांकि, अभी खतरा टला नहीं है। इधर, ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना का कहर जारी है। शहरी क्षेत्र की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। वहीं ग्राम पंचायतों द्वारा लगातार संदिग्धों पर नजर बनाए हुए हैं। ऐसे संदिग्धों को चिन्हित कर उन्हें आइसोलेट होने और दवाएं लेने की सलाह भी दी जा रही है। इतना ही नहीं जिन ग्राम पंचायतों में कोरोना का कहर अधिक है, ऐसे क्षेत्रों को अलग-अलग जोन में बांटा जा रहा है। जिसमें रेड जोन और यलो जोन मुख्य रुप से शामिल है। रेड जोन क्षेत्रों में लोगों के आवागमन पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा दिया गया है। इतना ही नहीं उस क्षेत्र में सूचना भी चस्पा की जा रही है, ताकि लोग अपने घरों से बाहर न निकल पाएं। ताजा मामला ग्राम पंचायत लालबर्रा का सामने आया है, जहां पर पंचायत द्वारा रेड जोन घोषित क्षेत्र में सूचना चस्पा कर लोगों के आवागमन पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध लगा दिया गया है। इतना ही नहीं पंचायत स्तर पर तैयार की गई कमेटी द्वारा इसकी निगरानी भी रखी जा रही है।
जिले में 30 अप्रैल को प्राप्त रिपोर्ट में 125 मरीजों के सेंपल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस प्रकार जिले में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 1029 हो गई है। राहत की बात है कि अब बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव मरीज ठीक हो रहे है। 30 अप्रैल को 252 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के ठीक हो जाने पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनोज पांडेय ने बताया कि बालाघाट जिले में 30 अप्रैल तक 6703 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से 5636 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। 30 अप्रैल को 252 मरीजों के ठीक होने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। जिले में 30 अप्रैल तक 38 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। कोरोना पॉजिटिव 1029 मरीजों में से 677 मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है, 101 मरीजों को अस्पताल के आइसोलेशन बेड पर रखा गया है, 236 मरीजों को ऑक्सीजन सप्लाई वाले बेड पर और 15 मरीजों को आइसीयू में रखा गया है। बालाघाट जिले में 30 अप्रैल तक कोरोना टेस्ट के लिए 1 लाख 5 हजार 470 सेंपल लिए जा चुके हैं।

Bhaneshwar sakure
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned