पीएचई विभाग पर 9 लाख का बिल बकाया, विभाग ने काटी बिजली

तिरोड़ी शहर में पानी सप्लाई ठप्प
सफल परीक्षण योजना अधुरी, पंचायत को नहीं हो पाई हस्तातंरित

By: mukesh yadav

Published: 23 Nov 2019, 02:54 PM IST

तिरोड़ी। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग पर करीब 9 लाख रुपए का बिजली बिल बकाया होने की वजह से मप्र पूर्व विद्युत वितरण कंपनी बोनकट्टा सर्किल ने तिरोड़ी पानी सप्लाई करने वाले मोटर पंप की बिजली काट दी है। शुक्रवार को मॉयल नगरी तिरोड़ी में पानी की सप्लाई नहीं हो पाई। इस कारण तिरोड़ी में सुबह से ही पानी के लिए हाहाकार मचा रहा। जानकारी के मुताबिक बिजली विभाग ने पीएचई विभाग को लगातार कई नोटिस जारी कर बिल जमा कराने की हिदायत दी। लेकिन जब बिल जमा नहीं हुआ तो विद्युत विभाग ने बिजली कनेक्टन काट दिया गया। इधर, पीएचई विभाग के सहायक यंत्री ने बताया कि फंड के अभाव में बिल जमा नहीं कराया गया। यह योजना अब तक अपूर्ण है। तिरोड़ी को बीते एक साल से लगातार पानी की सप्लाई हो रही है। मगर, तिरोड़ी पंचायत भी बिल नहीं दे रही है।
यह है पूरा मामला-
मॉयल नगरी तिरोड़ी के लिए करीबन 5 करोड़ रुपए की लागत से जल आवर्धन योजना स्वीकृत हुई है। इस योजना के तहत बावनथड़ी नदी से पानी लाया जा रहा है। यह योजना ठेकेदार की लापरवाही से अब तक पूर्ण नहीं हो पाई है। जबकि परीक्षण के चलते बीते एक साल से तिरोड़ी को पीने का पानी सप्लाई किया जा रहा है। इस परीक्षण के दौरान जो करीब साल भर से जो बिजली बिल आ रहा है उसका भुगतान भी पीएचई विभाग ही कर रहा है। इसके साथ ही विभाग ठेकेदार को लगातार कई नोटिस जारी कर योजना को शीघ्र पूर्ण करने की चेतावनी भी दे रहा है। लेकिन राजनैतिक संरक्षण रखने वाला ठेकेदार पर विभाग की इन चेतावनियों को कोई असर नहीं रहा। आज भी योजना अधूरी ही पड़ी है।
अधूरी योजना लेने से किया इंकार-
मिली जानकारी अनुसार जल आंवर्धन योजना के अधूरे होने की वजह से ग्राम पंचायत तिरोड़ी पहले ही हस्तातंरण लेने से साफ इंकार कर चुकी है। सरपंच आनंद बरमैया ने बताया कि एक साल पहले ठेकेदार ने पाईप लाईन का परीक्षण शुरू किया, जो पुरी तरह से सफल हो चुका है। लेकिन इसके बाद भी योजना में कुछ निर्माण कार्य बाकि है, इस कारण पंचायत योजना को अपने हस्तातंरण नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि जब तक योजना पूर्ण रूप से तैयार कर नही दी जाती तब तक योजना पंचायत अपने हस्तातंरण नहीं लेगी। उधर, पीएचई विभाग के अधिकारियों ने ठेकेदार को पुन: दुरभाष पर शीघ्र ही निर्माण पूरा करने की अंतिम चेतावनी दी है। बहरहाल, ठेकेदार की घोर लापरवाही का खामियाजा पीएचई विभाग तथा तिरोड़ी की आवाम को भुगतना पड़ा रहा है।
इनका कहना है-
पीएचई विभाग ठेकेदार से इस योजना को अब तक पूर्ण नहीं करवा पाया है। एक साल पहले पाईप लाईन का परीक्षण किया गया जो सफल है, लेकिन कुछ निर्माण कार्य अधूरा है। इस कारण पंचायत ने अब तक अपने हस्तांतरण नहीं लिया है।
आनंद बरमैया, सरपंच तिरोड़ी

फंड का अभाव होने की वजह से बिजली बिल की राशि जमा नहीं की गई. पंचायत में पानी सप्लाई हो रहा है मगर, अधूरी योजना होने के कारण वह राशि जमा नहीं कर रही है. ठेकेदार को दूरभाष पर शीघ्र ही निर्माण पूरा करने की चेतावनी दी गई है।
एनआर डोंगरे, सहायक यंत्री पीएचई विभाग

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned