scriptA, A, E, E are also being taught to the children of class V | पांचवीं के बच्चों को भी पढ़ाया जा रहा अ, आ, इ, ई | Patrika News

पांचवीं के बच्चों को भी पढ़ाया जा रहा अ, आ, इ, ई

सीएम की साख पर बट्टा लगा रहा ये स्कूल
तीन कमरों में लगाई जा रही आठवीं तक की कक्षाएं
शहर मुख्यालय के सीएम राइज स्कूल का मामला

https://fb.watch/dRBPRXJCz-/

बालाघाट

Updated: June 24, 2022 09:23:07 pm

https://fb.watch/dRBPRXJCz-/

इंट्रो- तीन कमरों का स्कूल भवन, आठवीं तक की कक्षाएं और एक ही कक्ष में पांच कक्षाओं का संचालन, यह हाल शहर के सीएम राइज स्कूल के हैं। गुरूवार को पत्रिका ने इस स्कूल का मुआयना किया, तो ढेरों अव्यवस्थाएं सामने आईं।
बालाघाट. शासन ने सरकारी स्कूलों से बड़े नामीं स्कूलों की तर्ज पर शिक्षा, सुविधाएं मुहैया कराने सीएम राइज स्कूल की शुरूआत की है। लेकिन अधूरी तैयारी के साथ इनका संचालन शुरू करने ऐसे स्कूल सीएम राइज स्कूलों की गाइड लाइन में जरा भी खरे नहीं उतर रहे हैं। ताजा मामला जिला मुख्यालय के जयङ्क्षहद टॉकिज के समीप संचालित शासकीय माध्यमिक स्कूल में देखने को मिल रहा है। तीन कमरों के इस स्कूल में पहली से आठवीं तक की कक्षाओं का मजबूरन संचालन किया जा रहा है। एक से पांचवीं तक के बच्चों को एक कमरें में साथ बैठाकर पढ़ाने से चार वर्ष पूर्व अ, आ, इ, ई सीख चुके चौथी, पांचवीं के बच्चों को भी पुन: पहली कक्षा की पढ़ाई करनी पड़ रही है। किसी भी कक्षा के बच्चों की सहीं पढ़ाई नहीं हो पा रही है।
अधूरी तैयारी में स्कूल की शुरूआत
प्रधान पाठक प्रेमलाल उइके ने बताया कि उनके स्कूल का चयन सीएम राइस स्कूल के रूप में नहीं हुआ है, बल्कि वीरांगना रानी दुर्गावति स्कूल को सीएम राइज स्कूल का दर्जा प्रदान किया गया है। व्यवस्था के तौर पर वहां के प्राचार्य द्वारा इस स्कूल में सीएम राइज स्कूल की कक्षाएं लगाई जा रही है। इसके लिए बकायदा सात शिक्षकों की नियुक्ति भी इस स्कूल में की गई है। कुछ वर्षो में जैसे ही रानी दुर्गावति स्कूल में सभी सुविधाएं मुहैया होगी, तो बच्चों को दुर्गावति स्कूल में ही बैठलना शुरू कर दिया जाएगा।
175 बच्चों ने लिया प्रवेश
बताया गया कि माध्यमिक शाला में पूर्व में महज 100 बच्चों की दर्ज संख्या था। वहीं करीब 7 शिक्षकों का स्टॉफ था। इस कारण व्यवस्था के तौर पर वरिष्ठों द्वारा सीएम राइज स्कूल के नाम पर प्रवेश प्रक्रिया शुरू की गई और 175 नए प्रवेशी बच्चों को दाखिला देकर माध्यमिक शाला जयहिंद टॉकिज में बैठाया जा रहा है। वर्तमान में इस स्कूल में एक से आठ तक कुल 275 बच्चों की दर्ज संख्या हो गई है। वहीं 14 शिक्षकों का स्टॉफ हो गया है। अब शीघ्र ही अतिरिक्त कक्ष या स्कूल भवन का इंतजाम होता है तो सीएम राइज स्कूल का विधिवत मापदंडों के अनुसार संचालन शुरू कर दिया जाएगा।
शासन को भेजा गया प्रस्ताव
प्रधान पाठक उइके ने बताया कि बच्चों को दाखिला देने के बाद सीएम राइज स्कूल के प्राचार्य द्वारा नए भवन व अन्य सुविधाओं को लेकर डीईओं कार्यालय के माध्यम से शासन को प्रस्ताव भेज दिया गया है। शासन स्तर से जो भी गाइड लाइन तय की जाएगी उसके अनुसार आगामी कार्ययोजना बनाकर कार्य किया जाएगा।
फैक्ट फाइल-
खास-खास-
:- रानी दुर्गावति स्कूल का सीएम राइज स्कूल में हुआ हैं चयन।
:- व्यवस्था के रूप में मा.शाल जयहिंद टॉकिज स्कूल में लगाई जा रही सीएम राइज की कक्षाएं।
:- 175 नए बच्चों को दिया गया हैं प्रवेश।
:- तीन कक्षों में लग रही आठवीं तक की कक्षाएं।
:- एक से पांच तक एक कमरें में लग रही कक्षाएं।
:- 14 शिक्षकों को हो गया है स्टॉफ।
पांचवीं के बच्चों को भी पढ़ाया जा रहा अ, आ, इ, ई
पांचवीं के बच्चों को भी पढ़ाया जा रहा अ, आ, इ, ई
कक्षा बच्चों की संख्या
पहली 20
दूसरी 30
तीसरी 35
चौथी 26
पांचवीं 40
छटवीं 60
सातवीं 49
आठवीं 36
कुल योग- 296
वर्सन
पहले हमारे यहां बच्चों की कम संख्या था। इस कारण व्यवस्था के तौर पर सीएम राइज स्कूल में प्रवेश लेने वाले बच्चों को माध्यमिक शाला जयहिंद टॉकिज में बैठाया जा रहा है। रानी दुर्गावति स्कूल में सुविधाएं व भवन मुहैया होने पर वहां सीएम राइज स्कूल का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। शासन को प्रस्ताव बनाकर भेजा जा चुका है।
प्रेमलाल उइके, प्रधान पाठक

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंस्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह पहुंचे मनोज तिवारी और निरहुआ, जवानों को परोसा खानाIndependence Day 2022: लाल किले पर बना नया रिकार्ड, पहली बार मेड इन इंडिया तोप ने दी सलामी, जानें इसके बारे मेंHar Ghar Trianga Campaign में 30 करोड़ से ज्यादा के झंडे बिके, CAIT ने बताया इतने करोड़ का हुआ कारोबारIndependence Day 2022: मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोले-देश को क्या दे रहे हैं यह सोचकर जीने की जरूरत38 साल पहले शहीद हुए लांसनायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर आज पहुंचेगा घर, राजकीय सम्मान से होगा अंतिम संस्कारसिद्धू मूसेवाला के पिता का बड़ा बयान, कहा-' जिन्होंने किया भाई होने का दावा वहीं निकले बेटे के हत्यारे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.