बालाघाट में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में एक और नया आयाम

बालाघाट में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में एक और नया आयाम

Mukesh Yadav | Publish: Sep, 07 2018 09:25:30 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

अब सौर ऊर्जा से जगमगाएगा जिला पंचायत कार्यालय भवन

बालाघाट. जिले में सौर ऊर्जा परियोजनाओं के क्रियान्वयन में दिनों दिन वृद्धी हो रही है। इसी श्रंृखला में कार्यालय जिला पंचायत भवन में एक 20 किलोवाट क्षमता के सोलर प्लांट की स्थापना का कार्य पूर्ण कर दिया गया है। जिला अक्षय ऊर्जा अधिकारी पीके जैन द्वारा बताया गया कि इस संयंत्र के विद्युत वितरण कम्पनी की ग्रिड से संयोजित होते ही कार्यालय जिला पंचायत भवन को सौर ऊर्जा से उत्पादित विद्युत का लाभ मिलने लगेगा तथा यह अपेक्षित है कि कार्यालय के विद्युत देयक में लगभग 80 प्रतिशत तक की कमी हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि स्थापित सौर संयंत्र से प्रतिमाह लगभग 2400 यूनिट विद्युत उत्पादित होगी। जिसका लाभ सीधे कार्यालय के विद्युत देयकों में प्राप्त होगा। इस प्रकार की परियोजनाओं से न केवल विद्युत की बचत होती है अपितु ऊर्जा के पारंपरिक स्त्रोतों एवं पर्यावरण के संरक्षण के साथ-साथ कार्बन डाई ऑक्साइड के उत्सर्जन में भी कमी आती है तथा इन्हीं कारणों से इस प्रकार की परियोजनाओं के प्रति दिन प्रतिदित रूझान बढ़ रहा है। इन योजनाओं को जन सामान्य तक पहुंचाने के लिए शासन द्वारा आकर्षक अनुदान भी दिया जा रहा है।
रेस्को पद्धति से कार्य
मप्र ऊर्जा विकास निगम द्वारा ष्रेस्को पद्धति पर भी सौर परियोजनाओं के क्रियान्वयन का कार्य शुरू कर दिया गया है। रेस्को पद्धति के अंतर्गत शासकीय भवनों की छत भूमि निजी विकासकों को उपलब्ध कराई जाती है। जिस पर सौर संयंत्र स्थापित कर निजी विकासकों द्वारा उस भवन को सशुल्क विद्युत प्रदाय किया जाता है। इसमें हितग्राही संस्था को कोई भी पूंजीगत निवेश नहीं करना होता है। विद्युत दरों का निर्धारण निविदा के माध्यम से किया जाता है।
१४ भवन चिन्हित
रेस्को परियोजना के तहत जिले के 14 शासकीय भवनों को चिन्हित किया गया है। जिनमें सात शासकीय महाविद्यालयए पांच शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान एवं दो पुलिस विभाग से संबंधित भवन शामिल हैं। मप्र ऊर्जा विकास निगम द्वारा आमंत्रित की गई निविदा में शासकीय महाविद्यालयों हेतु 2.21 रुपए प्रति यूनिट, शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों हेतु 2.35 रुपए प्रति यूनिट एवं पुलिस के संस्थानों हेतु 2.33 रुपए प्रति यूनिट की दरों का निर्धारण किया गया है। इसके अतिरिक्त इसी योजना में बालाघाट नगर पालिका परिषद के वाटर पंपिंग स्टेशन हेतु पांच-पांच सौ किलोवॉट क्षमता के दो सौर संयंत्रों की स्थापना प्रावधानित है। जिस हेतु मात्र 1.69 रुपए प्रति यूनिट की दर प्राप्त हुई है। चूंकि रेस्को परियोजना में हितग्राही उपभोक्ता को कोई निवेश नहीं करना होता है तथा उसे मौजूदा विद्युत दरों से अत्यंत कम दरों पर विद्युत प्राप्त होती है। अत: इन भवनों में हुई भारी बचत को इनके आधारभूत संरचना के सुधार हेतु उपयोग किया जा सकता है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned