मांगों को लेकर आशा कार्यकर्ता का आंदोलन जारी रैली निकाल सौंपा ज्ञापन

मध्यप्रदेश स्वास्थ्य आशा कार्यकर्ता संघ द्वारा अपनी मांगों को लेकर ११ मार्च से पांच दिवसीय धरना आंदोलन किया जा रहा है।

By: Bhaneshwar sakure

Updated: 13 Mar 2018, 08:37 PM IST

बालाघाट. मध्यप्रदेश स्वास्थ्य आशा कार्यकर्ता संघ द्वारा अपनी मांगों को लेकर ११ मार्च से पांच दिवसीय धरना आंदोलन किया जा रहा है। आशाओं ने न्यूनतम वेतनमान सहित अन्य मांगों को लेकर १३ मार्च को धरना स्थल से रैली निकाल कलेक्टर कार्यालय पहुंची। जहां मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री के नाम संयुक्त कलेक्टर पीयूष भटट् को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान संघ की अध्यक्ष सुशीला वट्टी ने बताया कि आशाओं द्वारा अपनी जायज मांगों को लेकर काफी समय से संघर्ष किया जा रहा है। लेकिन शासन-प्रशासन द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि उन्हें इंसेटिव नहीं मानदेय प्रदान किया जाए। इस दौरान मध्यप्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ जिलाध्यक्ष संतलाल सहारे सहित करीब एक सैकड़ा आशा कार्यकर्ता उपस्थित रही।

ग्रामीण महिलाओं को शासन की योजनाओं की दी जानकारी
उकवा. अहिल्यादेवी होलकर सामाजिक शैक्षणिक संस्था के द्वारा महिला सशक्तिकरण अभियान के तहत ग्राम हुड्डीटोला में ग्रामीण महिलाओं से मिलकर विभिन्न जानकारी दी गई। इस दौरान पूर्व सभापति ज्योति बिसेन, कंचन राणा, दीपा मेश्राम, रमूला वरकड़े, लक्ष्मी, शोभागिरी, मंजू सहित अन्य महिलाएं उपस्थित रहे। इस संबंध में संस्था की अध्यक्ष उषा गिरे ने बताया कि ग्रामीण महिलाओं को शासन के द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। जिसमें लक्ष्मी लाड़ली योजना, उषा किरण, गांव की बेटी, जननी सुरक्षा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। समस्त योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया। इसी कड़ी में दलदला सरपंच तरूणा वल्के के मार्गदर्शन में संगठन की पदाधिकारी महिलाओं को स्वच्छता अभियान के तहत भी जानकारी दी गई।

एक व्यक्ति ने फांसी लगा की आत्महत्या
बालाघाट. नगर के वार्ड नंबर २४ झुग्गी झोपड़ी निवासी उदय पिता मेहतलाल सोनवाने (४०) ने सोमवार की रात घर में फांसी लगा आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना कोतवाली थाना को मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच आवश्यक कार्रवाई की। पुलिस ने बताया कि मृतक मजदूरी करता था जिसकी पत्नी है तीन बच्चे है। पत्नी घरेलू विवाद के चलते अपने बच्चों के साथ पति से अलग रहती थी। मृतक का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान भी बन रहा था। उदय शराब पीने का आदी था जिसने रात्रि में फांसी लगा ली। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कार्रवाई कर मर्ग कायम किया।

 

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned