युवा हेलमेट पहनकर निकालेंगे बाइक रैली

संत नरहरि पूण्योत्सव लोकार्पण व महासम्मेलन आज

By: mukesh yadav

Published: 10 Feb 2018, 11:19 AM IST

बालाघाट. संत श्री नरहरि महाराष्ट्रीयन स्वर्णकार समाज द्वारा इस वर्ष भी ११ फरवरी को संत नरहरि पूण्योत्सव लोकार्पण व समाज के महासम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। यह आयोजन शहर के भटेरा चौकी बेरियर के समीप स्थित समाज के भवन में आयोजित होगा। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सांसद बोधसिंह भगत उपस्थित रहेंगे। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता नपा अध्यक्ष अनिल धुवारे करेंगे। इनके अलावा विशेष अतिथियों में वायके बांगरे, दामाजी चित्रिव, सीएल येवले, एसआर येरपुड़े, शंकरराव कुर्वे, पांडुरंग माहुरकर, सुरेश येरपुड़े व भाउलाल बांगरे उपस्थित रहेंगे।
इस संबंध में समाज के मीडिया प्रभारी नितेश भास्कर ने बताया कि सुबह ८.३० बजे समाज के युवाओं द्वारा सामाजिक चेतना हेतू हेलमेट पहनकर बाइक रैली निकाली जाएगी। जो शहर का भ्रमण करेगी। इसी तरह ९.३० बजे मॉ सरस्वती, संत नरहरि महाराज का पूजन किया जाएगा। इसके बाद समाज के मेधावी छात्र-छात्राओं व फैंसी ड्रेस व अन्य प्रतियोगिताओं के लिए पंजीयन उपरांत अतिथियों का स्वागत सत्कार किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान अतिथियों के हस्ते मेधावी विद्यार्थियों व प्रतियोगिताओं के विजेताओं का सम्मान किया जाएगा। वहीं कार्यक्रम के अंत में महाप्रसादी वितरण का कार्यक्रम रखा गया है। समाज के पदाधिकारियों ने सभी सामाजिक जनों से कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में शामिल होकर कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की है।

तन और मन का गहरा संबंध- कलेक्टर
कटंगी। एक स्वस्थ तो दूसरा भी स्वस्थ, एक रोगी, तो दूसरा भी रोगी। दोनों की स्वस्थता एक दूसरे पर निर्भर है। असल में शारीरिक स्थितियों और बाहरी घटनाओं से मन प्रभावित होता है और मानसिक स्थितियों और घटनाओं से तन प्रभावित होता है। स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन का निवास होता है। यह बातें शुक्रवार को कलेक्टर डीव्हीं सिंह ने शहर के शासकीय नवीन माध्यमिक शाला में बच्चों को संबोधित करते हुए कहीं। वह यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित कृमिनाशक दवा वितरण कार्यक्रम में बच्चों को दवा पिलाने के लिए पहुंचे थे। इस अवसर पर विधायक केडी देशमुख, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, एसडीओपी नीतू सिंह, खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. पंकज दुबे, थाना प्रभारी मनोज राजपूत, प्रधानपाठक हिरेश्वर मेश्राम सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी एवं शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रहे।
बच्चों को कृमि मुक्त बनाकर उनके शारीरिक और मानसिक विकास को प्राकृतिक रूप से प्रोत्साहन देने के उद्देशय से क्षेत्र में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (डी वार्मिंग डे) का आयोजन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त तत्वाधान में 09 फरवरी को किया गया। इस दौरान बच्चों को स्कूलों और आंगनवाड़ी केंद्रों पर अल्बेंडा जोल कृमिनाशक दवा खिलाई गई। केन्द्रों में 1-6 वर्ष तक के बच्चों को एवं स्कूलों में 6-19 वर्ष तक के बच्चों को दवा खिलाई गई। इसके अलावा स्कूल नहीं जाने वाले बच्चों को भी आंगनवाड़ी केन्द्रों में दवा खिलाई गई।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned