बिन सहकार नहीं उद्धार के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने प्रयास

mahesh doune

Publish: Nov, 14 2017 09:25:33 PM (IST) | Updated: Nov, 14 2017 09:26:58 PM (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India
बिन सहकार नहीं उद्धार के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने प्रयास

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित के प्रांगण में १४ नवम्बर को ६४ वें सहकारी सप्ताह दिवस समारोह का प्रारंभ किया गया।

बालाघाट. जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित के प्रांगण में १४ नवम्बर को ६४ वें सहकारी सप्ताह दिवस समारोह का प्रारंभ किया गया। इस दौरान केन्द्रीय बैंक अध्यक्ष राजकुमार रायजादा द्वारा झंडा वंदन कर समारोह का उद्घाटन किया गया। सहकारी गान का सामूहिक गायन किया गया।
इस अवसर पर केन्द्रीय बैंक अध्यक्ष रायजादा ने सहकारिता दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ये दिवस देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिवस से प्रारंभ होता है। इस सप्ताह के अंतर्गत जिले के अलग-अलग तहसीलों में सहकारी कार्यक्रम कर संचालित कर किया जाता है। सहकारिता सुविधाओ और संबंधो एवं सहयोग को मजबूत करने पर जन चर्चा की जाती है। देश के किसानों का ऐसा आंदोलन है जो सहकारिता के विकास से देश के विकास व समृद्धि से जोड़ता है। बिन संस्कार नहीं सहकार और बिन सहकार नहीं उद्धार के परिणाम मूलक विचारों को जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास होना चाहिए। कार्यक्रम में उपायुक्त सहकारिता एस दुबे, चिरोंजीलाल पारधी, जगलाल राहंगडाले, टेकेन्द्र ठाकरे, मुकेश दुबे सहित अन्य शामिल रहे।

३० वर्ष से अधिक उम्र के १३६ की हुई मधुमेह जांच
बालाघाट. विश्व मधुमेह दिवस पर १४ नवम्बर को जिला अस्पताल में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें ३० वर्ष से अधिक वाले करीब १३६ लोगों की शुगर जांच कर उन्हें उचित सलाह दी गई। इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. एके जैन, आरएमओ डॉ. अरूण लांजेवार, मेडीकल ऑफीसर डॉ. अनूप तिडग़ाम, डॉ. पाराशर प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
डॉ. जैन ने कहा कि ब्लेड प्रेशर व मधुमेह दो ऐसी बीमारी है जो आयु के साथ अक्सर हो जाती है। मधुमेह शुगर की बीमारी होने पर इसका कोई ईलाज नहीं है कि ये हमेश के लिए खत्म हो जाए। ३० वर्ष से अधिक उम्र के बाद शुगर व ब्लेड प्रेशर की जांच करा लेंवे। आयु के साथ शुगर व ब्लेड प्रेशर की शिकायत होती है। चिकित्सा विज्ञान में ऐसा माना जाता है कि शुगर व हाई ब्लेड प्रेशर ऐसी बीमारी है जो हिमपर्वत की तरह होती है। जो बाहर से छोटी दिखती है पर अंदर उसका आकार बड़ा होता है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned