मानव तस्करी के मामले में अंतरराज्यीय गिरोह के 7 आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

Bhaneshwar Sakure

Publish: May, 18 2019 09:16:48 PM (IST)

Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

बालाघाट. काम दिलाने के बहाने एक बहन ने ही अपनी बहन को बेच दी। इस कार्य में यह महिला अकेली नहीं थी। बल्कि एक गिरोह मिलकर इस कार्य को अंजाम देता था। कोतवाली पुलिस ने मानव तस्करी के मामले में अंतरराज्यीय गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है। वहीं युवतियों की खरीद फरोख्त करने वाले दो आरोपी अभी भी फरार है। पुलिस ने इन आरोपियों को न्यायालय में पेश किया। जिसमें से तीन आरोपी को तीन दिन की रिमांड पर लिया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है।
इन्हें किया गिरफ्तार
इस मामले में बेबी पति सुनिल सिडाम (३८) निवासी फूलचुर टोला आईटीआई के सामने सेलटेक्स कॉलोनी गोंदिया महाराष्ट्र, रूपचंद पिता लक्ष्मण वाघ (४४) निवासी अड़ावत थाना अड़ावत चौपड़ा जिला जलगांव महाराष्ट्र, विजय उर्फ बिज्जू पिता लोटन विसावे (४२) मुकाम पोस्ट फुफोनगरी तालुका जलगांव महाराष्ट्र, संगीता पिता प्रेमलाल इनवाती (२५) ग्राम सूरिया चौकी चरेगांव थाना लामता जिला बालाघाट मप्र, जयदेव आगासे पिता भैयालाल आगासे (४७) निवासी वार्ड नंबर 03 बेरडीपार खुर्शी थाना तिरोड़ा तालुका जिला गोंदिया महाराष्ट्र, प्रदीप हनवत पिता सूरजलाल हनवत (४५) निवासी डोंगरगांव थाना रामपायली जिला बालाघाट और अजय पिता रुपचंद वाघ (२१) निवासी अड़ावत थाना अड़ावत चौपड़ा जिला जलगांव महाराष्ट्र को गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों के पास से दो मोटर सायकल, आरोपियों के मोबाइल, नगदी 37000 रुपए जब्त की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned