पुलिस-नक्शली मुठमेड़ मामले की हो सीबीआई जांच- मुंजारे

पुलिस की गोलियों से नहीं बल्कि सर में चोट लगने से हुई मौत, पुलिस कार्रवाई के बाद पूर्व सांसद कंकर मुंजारे ने मुठभेड़ को बताया फर्जी

By: mukesh yadav

Published: 25 Nov 2018, 08:41 PM IST

Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

बालाघाट. जिले के हट्टा थाना क्षेत्र के गोदरी ग्राम के जंगल में मिले अज्ञात शव की मौत पुलिस की गोलियों से नहीं बल्कि सिर में चोट लगने की वजह से हुई है। जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर गोदरी में पुलिस व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ होने का मामला सामने आया था। इसके बाद पूर्व सांसद कंकर मुंजारे ने रविवार को प्रेसवार्ता का आयोजन कर पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठाए। वहीं उन्होंने मुठभेड़ को भी फर्जी करार दिया है। इधर दोपहर करीब ०३ बजे पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए ने भी प्रेसवार्ता कर मामले में सफाई दी। उन्होंने बताया कि गोदरी के जंगल में पुलिस का नक्सलियों के साथ आमना-सामना तो हुआ, लेकिन इस मुठभेड़ में कोई नक्सली नहीं मारा गया है। बल्कि मुठभेड़ के बाद एक ग्रामीण का शव बरामद किया गया है। शव का रविवार को पुलिस सुरक्षा के बीच पीएम करवाया गया। इस दौरान सामने आया है कि उक्त व्यक्ति की मौत सिर में चोट लगने की वजह से हुई है। कयास लगाए जा रहे हैं कि गोलियों की आवाज सुनकर उक्त मृतक व्यक्ति भागा होगा, जो कि गिरने की वजह से उसके सिर में चोटें आई और उसकी मौत हो गई।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned