चन्द्रशेखर युवाओं के लिए प्रेरणा बना स्त्रोत

15 से 20 लोगों को दे रहा है रोजगार

By: mukesh yadav

Published: 24 May 2018, 05:09 PM IST

15 से 20 लोगों को दे रहा है रोजगार
बालाघाट. भाग्य के भरोसे रहने वाले लोग पीछे रह जाते हंै और कर्म करने वाले लोग आगे निकल जाते हंै। अच्छे कर्म करेंगें तो उसके फल भी अच्छे मिलेंगें। बिना कर्म किए भाग्य के भरोसे बैठे रहेंगें तो कुछ भी भला नहीं होने वाला है। इस बात को सही साबित कर दिखाया है चन्द्रशेखर माहुले ने। अपनी मेहनत के दम पर वह 15 से 20 लोगों को रोजगार दे रहा है और हर माह लगभग 30 हजार रुपए की शुद्ध कमाई कर रहा है। चन्द्रशेखर अब युवाओं के लिए एक प्रेरणा स्त्रोत बन गया है।
चन्द्र शेखर माहुले बालाघाट के ग्राम सिहोरा चिखला का रहने वाला है। 30 वर्ष के चन्द्रशेखर ने 12 वीं तक की पढ़ाई किया है। परिवार की आर्थिक स्थिति के कारण वह 12 वीं के आगे की पढ़ाई नहीं कर पाया है। उसके पिता खेती करते हैं। लेकिन मात्र चार एकड़ के खेत में परिवार का गुजारा करना मुश्किल होता था। चन्द्रशेखर ने 06 माह पहले प्रायवेट बैंक से कुछ राशि ऋण लेकर और कुछ राशि रिश्तेदारों ने उधार लेकर 3 लाख 50 हजार रुपए की मकानों के स्लेब ढालने में काम आने वाली लिफ्ट मशीन, सेंट्रींग का सामान और सीमेंट कांक्रीट का गारा बनाने वाली मिक्शर मशीन खरीद ली है। इन 06 माह में इन मशीनों ने चन्द्रशेखर का भाग्य जैसे बदल कर रख दिया है।
चन्द्रशेखर ने बताया कि जब से उसने मशीन लाया है उसके पास काम की कोई कमी नहीं है। उसका छोटा भाई ओमेश्वर भी उसे इस काम में मदद करता है। अपने इस काम से वह 15 से 20 अन्य लोगों को रोजगार दे रहा है। मशीन व मजदूरों की लागत आदि निकालने के बाद उसे हर माह 30 हजार रुपए की बचत हो जाती है। चन्द्रशेखर के परिवार की अब किस्मत ही बदल गई है। अब उसके परिवार को जरूरत के समय किसी के सामने के हाथ नहीं फैलाना पढ़ता है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned